scorecardresearch
 

दिल्‍ली: रोहिणी कोर्ट के बाहर चौटाला समर्थकों का हंगामा

हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला के समर्थकों ने दिल्‍ली की रोहिणी कोर्ट के बाहर जमकर हंगामा किया है. शिक्षक भर्ती घोटाले में दोषी पाए गए चौटाला समेत सभी दोषियों को राहिणी कोर्ट में ही मंगलवार को सजा सुनाई जानी है.

हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला के समर्थकों ने दिल्‍ली की रोहिणी कोर्ट के बाहर जमकर हंगामा किया है. शिक्षक भर्ती घोटाले में दोषी पाए गए चौटाला समेत सभी दोषियों को राहिणी कोर्ट में ही मंगलवार को सजा सुनाई जानी है.

सजा सुनाए जाने से पहले चौटाला के समर्थक बड़ी संख्‍या में कोर्ट के बाहर इकट्ठा हो गए और चौटाला के समर्थन में नारे लगाने लगे. समर्थकों ने जबरदस्ती अदालत परिसर में प्रवेश का प्रयास किया. इसके बाद पुलिस को आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े और समर्थकों को तितर-बितर करने के लिए लाठीचार्ज करना पड़ा.

एक पुलिस अधिकारी ने बताया, 'हमें पानी की बोछारों, आंसू गैस और लाठीचार्ज का इस्तेमाल करना पड़ा क्योंकि समर्थकों ने सुबह करीब 9.20 बजे अदालत के बाहर लगे पुलिस बैरिकेड तोड़ने की कोशिश की.' समर्थकों ने अदालत की ओर जाने वाले सभी सड़क मार्गो को भी बंद करने का प्रयास किया. पुलिस अधिकारी ने बताया, 'हमने अदालत परिसर के भीतर व बाहर 1,000 से ज्यादा पुलिसकर्मी तैनात किए हैं.'

गौरतलब है कि दिल्ली की विशेष सीबीआई अदालत चौटाला और उनके बेटे को सजा सुनाने जा रही है. दोनों 12 साल पुराने एक घोटाले के दोषी करार दिए जा चुके हैं. कुल मिलाकर 55 अभियुक्तों को अदालत सजा सुनाएगी.

दोषियों में जो और बड़े अधिकारी शामिल हैं, उनमें प्रमुख हैं- हरियाणा के तत्कालीन प्राथमिक शिक्षा निदेशक संजीव कुमार, मुख्यमंत्री के तत्कालीन ओएसडी विद्याधर और चौटाला के तत्कालीन राजनीतिक सहालकार शेर सिंह बड़शामी. दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में सीबीआई के विशेष जज ने 16 जनवरी को इन सभी लोगों को दोषी करार दिया था. जबकि सोमवार को दोषियों की ओर से सजा पर बहस पूरी हो गई.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें