scorecardresearch
 

बिल्ली समझकर 'तेंदुए' के बच्चों को घर लाया 6 साल का लड़का

घर लाने के बाद वह कुछ दिनों तक उनके साथ खेलता भी रहा, बच्चे के घरवालों को भी विश्वास नहीं आ पाया कि वह बिल्ली के बच्चे नहीं हैं. लेकिन एक पड़ोसी के बताने के बाद उन्होंने इसकी सूचना वन विभाग को दी.

X
तेंदुए के बच्चों को घर लाया बच्चा तेंदुए के बच्चों को घर लाया बच्चा

आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम में एक अजीब घटना सामने आई है. यहां के पडेरू में एक 6 वर्षीय बच्चा अपने घर दो तेंदुए के बच्चों को साथ ले आया. बच्चे को लगा कि वह बिल्ली के बच्चे हैं. उसने उन्हें दूध और खाने का सामान भी दिया.

घर लाने के बाद वह कुछ दिनों तक उनके साथ खेलता भी रहा, बच्चे के घरवालों को भी विश्वास नहीं आ पाया कि वह बिल्ली के बच्चे नहीं हैं. लेकिन एक पड़ोसी के बताने के बाद उन्होंने इसकी सूचना वन विभाग को दी.

बच्चे की मां सरस्वती ने कहा कि वह बिल्ली के बच्चों की तरह लग रहे थे, हमनें उनकी दो दिनों तक देखभाल भी की लेकिन सूचना मिलने के बाद हमनें वन विभाग को सूचित किया. वन अधिकारी ने बताया कि एक बार में मादा तेंदुआ दो से छह बच्चों तक जन्म दे सकती है, बच्चे दो साल तक अपनी मां को नहीं छोड़ते हैं और वे उनके संरक्षण में रहते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें