scorecardresearch
 

बीजेपी ने खत्म किया सस्पेंस, राज्यसभा के लिए नामों की घोषणा

पार्टी ने उन सभी केंद्रीय मंत्रियों को दोबारा राज्यसभा भेजा है, जिनका कार्यकाल खत्म हो रहा था. मुख्तार अब्बास नकवी को झारखंड से टिकट दिया तो झारखंड से राज्यसभा सांसद एम. जे. अकबर को मध्य प्रदेश शिफ्ट किया गया है.

वेंकैया नायडू वेंकैया नायडू

बीजेपी ने राज्यसभा उम्मीदवारों की दूसरी सूची जारी कर कई दिनों से चले आ रहे सस्पेंस को खत्म कर दिया. पार्टी ने आगामी चुनाव को लेकर जातिगत समीकरण को तो ध्यान में रखा ही साथ ही पार्टी के प्रति निष्ठा को भी सराहा.

एमजे अकबर को इस बार एमपी भेजा
पार्टी ने उन सभी केंद्रीय मंत्रियों को दोबारा राज्यसभा भेजा है, जिनका कार्यकाल खत्म हो रहा था. मुख्तार अब्बास नकवी को झारखंड से टिकट दिया तो झारखंड से राज्यसभा सांसद एम. जे. अकबर को मध्य प्रदेश शिफ्ट किया गया है. वहीं निर्मला सीतारमण को आंध्र प्रदेश की जगह 100 फीसदी पक्की सीट कर्नाटक भेजकर इन अटकलों पर विराम लगाया है की उन्हें संगठन में भेजा जा सकता है.

लिस्ट में सुशील मोदी का नाम नहीं
बिहार की सीट पर सुशील मोदी से लेकर शाहनवाज हुसैन तक सबकी नजर थी. सुशील मोदी ने राज्यसभा आने के लिए पार्टी आलाकमान के साथ काफी लॉबिंग भी की लेकिन उन्हें बिहार में मिली हार का खामियाजा चुकाना पढ़ा और पार्टी ने अर्से से अलग-थलग पड़े गोपाल नारायण सिंह का नाम घोषित कर सबको चौका दिया.

राम माधव नहीं राज्यसभा के नॉमिनी
पार्टी उपाध्यक्ष और थिंक टैंक विंग के प्रभारी विनय सहस्त्रबुद्धे को महाराष्ट्र से सीट देकर संगठन में काम का इनाम मिला. पार्टी को दो राज्यो में सत्ता सुख दिलवाने में अहम भूमिका निभाने वाले पार्टी नेता राम माधव को पार्टी ने संगठन में बड़ी जिम्मेदारी देने को योजना बनाई है और कई दिनों तक नाम चलने के बाद आखिर राम माधव ने खुद ट्वीट पर सफाई दी की वो राज्यसभा के नॉमिनी नहीं हैं.

यूपी में ब्राह्मण वोटर पर नजर
वहीं पार्टी के पुराने ब्राह्मण नेता शिव प्रताप शुक्ला को उत्तर प्रदेश की इकलौती सीट देकर प्रदेश में आगामी चुनावो की रणनीति के संकेत दिए हैं. पार्टी का इशारा साफ है की आने वाले दिनों में योगी आदित्यनाथ को राज्य में कोई बड़ी ज़िम्मेदारी दी जा सकती है क्योंकि शिव प्रताप शुक्ला और योगी आदित्यनाथ के आपसी मनमुटाव किसी से छिपे नहीं और शुक्ला को राज्यसभा भेजकर योगी के लिए रास्ता साफ करना एक बड़ी वजह मानी जा रही है. ब्राह्मण वोटर को लुभाने की कोशिश भी की गई है, जिस पर बसपा सुप्रीमो मायावती की भी खास नजर है.

सबसे ज्यादा यूपी में सीटें खाली
15 राज्यों के 57 सांसदों का कार्यकाल जून से अगस्त के बीच खत्म हो रहा है. कार्यक्रम के मुताबिक 11 जून को वोटिंग होगी और उसी दिन नतीजे भी घोषित कर दिए जाएंगे. सबसे ज्यादा 11 सीटें उत्तर प्रदेश में खाली हो रही हैं, वहीं बिहार के 5 सांसदों का कार्यकाल समाप्त हो रहा है. इसके अलावा तमिलनाडु और महाराष्ट्र में 6-6 सीटें खाली हो रही हैं, जबकि आंध्र प्रदेश से 4 सीटों पर चुनाव होगा. कर्नाटक और राजस्थान में भी 4-4 सीटों पर चुनाव होगा. झारखंड, छत्तीसगढ़, पंजाब, हरियाणा और तेलंगाना से दो-दो सीटें खाली हो रही हैं.

बीजेपी के राज्यसभा उम्मीदवारों की सूची

राजस्थान- वेंकैया नायडू , ओम प्रकाश माथुर, हर्षवर्धन सिंह और राम कुमार वर्मा

हरियाणा- चौधरी वीरेंद्र सिंह

महाराष्ट्र- पीयूष गोयल, विनय सहस्त्रबुद्धे, विकास महात्मे

कर्नाटक- निर्मला सीतारमन

झारखंड - मुख्तार अब्बास नकवी, महेश पोद्दार

गुजरात- पुरुषोत्तम रूपाला

मध्य प्रदेश- अनिल माधव दवे, एम. जे. अकबर

छत्तीसगढ़- रामविचार नेताम

बिहार- गोपाल नारायण सिंह

आंध्र प्रदेश- सुरेश प्रभु

उत्तर प्रदेश- शिव प्रताप शुक्ला

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें