scorecardresearch
 

तोमर की फर्जी डिग्री, किसान आत्महत्या पर पुलिस रिपोर्ट को लेकर AAP निशाने पर

आम आदमी पार्टी (आप) को दिल्ली के कानून मंत्री जितेंद्र सिंह तोमर की कथित फर्जी विधि डिग्री और दिल्ली पुलिस की किसान आत्महत्या मामले की रिपोर्ट को लेकर गुरुवार को विपक्ष के दोहरे हमले का सामना करना पड़ा. दिल्ली पुलिस ने इस रिपोर्ट में आप कार्यकर्ताओं पर पार्टी की रैली में किसान गजेंद्र सिंह को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाया है.

Arvind Kejriwal Arvind Kejriwal

आम आदमी पार्टी (आप) को दिल्ली के कानून मंत्री जितेंद्र सिंह तोमर की कथित फर्जी विधि डिग्री और दिल्ली पुलिस की किसान आत्महत्या मामले की रिपोर्ट को लेकर गुरुवार को विपक्ष के दोहरे हमले का सामना करना पड़ा. दिल्ली पुलिस ने इस रिपोर्ट में आप कार्यकर्ताओं पर पार्टी की रैली में किसान गजेंद्र सिंह को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाया है.

दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष सतीश उपाध्याय के नेतृत्व में पार्टी ने तोमर को बर्खास्त करने की मांग को लेकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आवास के बाहर प्रदर्शन किया. वहीं कांग्रेस ने उस रैली के आयोजन में एक 'छात्र संघ' के मानक भी पूरा नहीं कर पाने के लिए आप की खिल्ली उड़ायी, जिसमें किसान की मौत हो गई थी.

यद्यपि मुश्किल में घिरी दिल्ली की सत्ताधारी आप ने जवाबी हमला करते हुए केंद्र पर आरोप लगाया कि वह बदला लेने के लिए पुलिस का इस्तेमाल 'राजनीतिक हथियार' के तौर पर कर रही है. आप ने इसके साथ ही तोमर का यह कहते हुए बचाव किया कि उनके खिलाफ कोई 'जांच' लंबित नहीं है.

उपाध्याय ने कहा, 'दिल्ली सरकार ने दिल्ली के लोगों को मूर्ख बनाया. जिस तरीके से दिल्ली सरकार का एक मंत्री फर्जी डिग्री के साथ बैठा हुआ है, हमारे पास इस गर्मी में सड़कों पर उतरने के अलावा अन्य कोई विकल्प नहीं बचा है. हम कानूनी रास्ता भी अपना सकते हैं और यदि जरूरत पड़ी हम इस संबंध में एक प्राथिमिकी भी दर्ज कराएंगे.'

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता एवं पूर्व मंत्री किरन वालिया ने आप पर व्यंग्यपूर्ण टिप्पणी करते हुए कहा कि 'उनके कानून मंत्री कानून तोड़ने में बहुत अच्छे हैं.'

आप के एक वरिष्ठ नेता ने कहा, 'मामला अदालत में विचाराधीन है तब इतना हो हल्ला क्यों हो रहा है? उन्होंने अपना रूख मंगलवार पहले ही स्पष्ट कर दिया था. यदि आरोप साबित हो जाते हैं तो उनके खिलाफ कार्रवाई निश्चित तौर पर की जाएगी, लेकिन यदि उनके खिलाफ कोई जांच लंबित नहीं हैं तो वह त्यागपत्र क्यों दें.'

वालिया ने आप की रैली में एक किसान द्वारा आत्महत्या किये जाने को लेकर भी पार्टी पर निशाना साधा. उन्होंने कहा, 'पार्टी बिना किसी इंतजाम के रैली करती है. वे एक छात्र संघ जैसा भी व्यवहार नहीं कर सकते. यहां तक कि छात्र भी बेहतर ढंग से आयोजन करते हैं.'

दिल्ली पुलिस ने गृह मंत्री राजनाथ सिंह को सौंपी अपनी प्रारंभिक रिपोर्ट में राज्य सरकार पर मृतक का पोस्टमार्टम विलंबित करने के प्रयास का आरोप लगाया. इसके साथ ही पुलिस ने आप कार्यकर्ताओं पर गजेन्द्र को आत्महत्या जैसा कदम उठाने के लिए उकसाने का आरोप लगाया है.

आप प्रवक्ता दीपक वाजपेयी ने रिपोर्ट को 'मनगढ़त' करार दिया और कहा कि पुलिस का इस्तेमाल एक 'राजनीतिक हथियार' के तौर पर किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 174 के तहत पुलिस सरकार की अनुमति के बिना भी पोस्टमार्टम करा सकती है.

- इनपुट IANS

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें