scorecardresearch
 

BJP की राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक खत्म, भूमि अधिग्रहण बिल पर पीछे न हटने का ऐलान

बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक खत्म हो गई है. वरिष्ठ नेताओं के बीच बुकलेट जारी कर पार्टी ने भूमि अधिग्रहण बिल को किसानों के हित में बताया और बिल के मुद्दे पर पीछे न हटने का ऐलान किया.

पीएम मोदी पीएम मोदी

बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक खत्म हो गई है. वरिष्ठ नेताओं के बीच बुकलेट जारी कर पार्टी ने भूमि अधिग्रहण बिल को किसानों के हित में बताया और बिल के मुद्दे पर पीछे न हटने का ऐलान किया.

राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में बीजेपी ने कांग्रेस पर गलतफहमी फैलाने का आरोप लगाया. बीजेपी ने भूमि अधिग्रहण बिल के मुद्दे पर तय कर लिया है कि विधेयक पर वो पीछे नहीं हटेगी. बल्कि पीछे हटने की बजाय विपक्षियों के हमले पर जवाब देने पर विचार कर रही है. बीजेपी ने ये तय किया है कि भूमि अधिग्रहण बिल के मुद्दे पर हर गांव जाकर किसानों को फायदे गिनाए जाएंगे. किसानों को कांग्रेस के विरोध की वजह और राजनीति के बारे में किसानों को समझाने की सलाह दी गई है.

कांग्रेस के रचनात्मक प्रस्ताव का स्वागत: जेटली
वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि विधेयक में जो 9 संशोधन हैं, हम उसके साथ बिल को पास करने को लेकर तैयार हैं. बिल के मुद्दे पर हम बिलकुल पीछे नहीं हटेंगे. अगर कांग्रेस कोई रचनात्मक प्रस्ताव देती है तो हम उसका स्वागत करेंगे.

बीजेपी ने किया राजनीतिक प्रस्ताव पास
केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा, 'हम बेबुनियाद दुष्प्रचार नहीं होने देंगे. विपक्ष के दुष्प्रचार अभियान से निपटा जाएगा. पार्टी हर गांव में तथ्यों का खुलासा करेगी और लोगों को बताएगी कि हमारे पास एक कानून है जो किसानों और लोगों के पक्ष में है.' उन्होंने कहा, ‘सभी पार्टी सदस्य जनता के समक्ष भूमि विधेयक के अंश स्पष्ट करेंगे. सरकार की मंशा किसानों की मदद करने की है.'

'दुष्प्रचार अभियान को लेकर है चिंता'
निर्मला ने कहा, ‘अगर कोई चिंता है तो वह दुष्प्रचार अभियान को लेकर है.’ उन्होंने कहा कि पार्टी शिवसेना और शिअद जैसे सहयोगियों से संपर्क करेगी, जिन्होंने गंभीर आपत्तियां जताई हैं. पार्टी की मंशा सब को साथ लेकर चलने की है, किसी को ठेस पहुंचाने की नहीं है. निर्मला ने कहा, ‘जब हम विपक्ष के साथ संपर्क करने को तैयार हैं तो हम अपने खुद के सहयोगियों से क्यों नहीं संपर्क करेंगे.'

उन्होंने विपक्ष पर हमला करते हुए कहा कि वे विधेयक से जुड़ी कोई खास आपत्ति सामने रखने में नाकाम रहे हैं और केवल विरोध करने के नाम पर इसका विरोध कर रहे हैं.

भूमि बिल पर दी गई प्रजेंटेंशन
राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य गोपाल अग्रवाल ने भूमि अध‍िग्रहण बिल पर प्रजेंटेशन दिया. केंद्रीय संसदीय कार्यमंत्री वैकेंया नायडू ने इस बिल पर बुकलेट जारी की. बुकलेट में भूमि बिल के फायदे बताए गए हैं.

कांग्रेस पर बोला हमला
राजनाथ सिंह ने राजनीतिक प्रस्ताव के जरिए कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा, 'हम कांग्रेस मुक्त भारत की ओर बढ़ रहे हैं. कांग्रेस हमें गरीबों का हितैषी बताकर हमारे खि‍लाफ भ्रमित करने वाली अभियान चला रही है, जिसका हम जवाब देंगे.' प्रस्ताव में घोषणा की गई कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय के शताब्दी वर्ष को मनाया जाएगा और अंत्योदय के उनके सपने को सच किया जाएगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें