scorecardresearch
 

फेसबुक पर वायरल हो रहा स्‍त्री की वर्जिनिटी वाला विज्ञापन फर्जी निकला

सोशल मीडिया के तमाम फायदे-नुकसान हैं. पर क्या किया जाए जब कोई छेड़छाड़ करके कोई तस्वीर या संदेश आपके नाम से इंटरनेट पर डाल दे, वह वायरल हो जाए और लोग आप पर बरसने लगें. अब तक ऐसी घटनाएं व्यक्तिगत ही हुआ करती थीं, लेकिन एक जानी-मानी कंपनी भी इसकी शिकार हो गई.

X
Aston Martin Fake facebook Advertisement
Aston Martin Fake facebook Advertisement

सोशल मीडिया के तमाम फायदे-नुकसान हैं. पर क्या किया जाए जब कोई फर्जी तस्वीर या संदेश आपके नाम से इंटरनेट पर डाल दे, वह वायरल हो जाए और लोग आप पर बरसने लगें. अब तक ऐसी घटनाएं व्यक्तिगत ही हुआ करती थीं, लेकिन एक जानी-मानी कंपनी भी इसकी शिकार हो गई.

क्या है पूरा मामला
ब्रिटिश कार कंपनी 'एस्टन मार्टिन' सोशल मीडिया के निशाने पर आ गई. वजह, सेकेंड हैंड कारों का एक विवादास्पद फोटो विज्ञापन, जिसमें एक महिला न के बराबर कपड़ों में खड़ी दिखाई दे रही है और वहीं साथ में लिखा है, 'आप जानते हैं कि आप पहले शख्स नहीं हैं, पर क्या सच में आप इसकी परवाह करते है?'

जाहिर है यह सेक्स और वर्जिनिटी को लेकर किया गया कमेंट था, ताकि लोग इस्तेमाल हो चुकी कारें खरीदने के लिए प्रोत्साहित हों. लेकिन सोशल मीडिया पर जैसे ही यह ऐड आया, कई लोगों को यह आपत्तिजनक लगा और उन्होंने कंपनी की आलोचना शुरू कर दी. विरोध करने वालों का कहना था कि यह ऐड महिला विरोधी और दकियानूसी विचारों वाला है और औरत की वर्जिनिटी को संकीर्ण अर्थों में पेश करता है.

फेसबुक पर फूटा गुस्सा
रांझना फेम एक्ट्रेस स्वरा भास्कर ने हाल ही में फेसबुक पर लिखा, 'मुझे हंसी नहीं आई. शायद इसलिए कि मैं कार नहीं हूं, न हो पाऊंगी. न ही मैं वह हूं जिसे कोई पहले इस्तेमाल कर ले, फिर कोई और. मेरा कोई मालिक नहीं है, इसलिए मैं 'प्री-ओन्ड' नहीं हो सकती. और एक, दो, तीन कोई गिनती नहीं हो सकती उन लोगों की जिनके साथ मैं सेक्स कर सकती हूं. क्योंकि सेक्स प्यार और अंतरंगता की भावना है, नंबर गेम नहीं. मैं महिला हूं, इंसान हूं और मैं आहत हुई हूं. एस्टन मार्टिन एंड कंपनी, तुम्हें शर्म आनी चाहिए. यह मजाक नहीं है. यह बेवकूफाना, अश्लील और दयनीय है.'

लेकिन फर्जी निकला विज्ञापन
स्वरा की इस पोस्ट को कई लोगों ने शेयर किया और कंपनी पर अपना गुस्सा निकाला. लेकिन स्टोरी में ट्विस्ट तब आया जब पता चला कि बहुत पहले ही यह साफ हो चुका है कि यह विज्ञापन 'फर्जी' है.

इस ऐड को फर्जी बताने वाले इंटरनेट पर कई लेख पहले मौजूद हैं. इसमें बताया गया कि किसी ने तस्वीर पर कंपनी का 'लोगो' लगाकर यह बदमाशी की है और जल्दबाजी में उसने 'प्री ओन्ड' की स्पेलिंग भी गलत कर दी है. जाहिर है, एक अंतरराष्ट्रीय कंपनी से अपने विज्ञापन में गलत स्पेलिंग लिखने की अपेक्षा नहीं की जाती. इतना ही नहीं, गूगल इमेज में सर्च करने से ऐड में दिख रही तस्वीर की असलियत भी सामने आ जाती है. यह तस्वीर प्लेब्वॉय जर्मनी मैगजीन के जनवरी 2012 संस्करण से ली गई है. तस्वीर में दिख रही मॉडल नीदरलैंड की रोसेन जॉन्गेनेलेन हैं. लेकिन इंटरनेट से किसी चीज को पूरी तरह गायब करना बेहद मुश्किल होता है और लोग आज भी इस फर्जी ऐड के झांसे में आ जाते हैं.

दिलचस्प बात यह है कि 'आप जानते हैं कि आप पहले शख्स नहीं हैं, पर क्या सच में आप इसकी परवाह करते है', यह टैगलाइन विज्ञापन की दुनिया में नई नहीं है. कारमेकर कंपनी बीएमडब्ल्यू इसी टैगलाइन से एक विज्ञापन 2008 में बना चुकी है. वह असली विज्ञापन था और उस पर कोई बवाल नहीं हुआ.


                    BMW का 2008 में आया विज्ञापन

2011 में ओन्टैरियो के एक डीलरशिप ने अपनी सेकेंड हैंड कारों के ऐड के लिए इसी टैगलाइन से दो अलग-अलग ऐड बनाए. एक में पुरुष मॉडल की तस्वीर थे, दूसरी में महिला की.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें