scorecardresearch
 

आर्मी चीफ बोले- मानवाधिकार में यकीन, लेकिन कश्मीर में हालात के मुताबिक होगा एक्शन

आर्मी चीफ ने कहा कि दक्षिणी कश्मीर के कुछ इलाकों में आतंकियों की सक्रियता के कारण समस्याएं हैं लेकिन उसके खात्मे के लिए एक्शन लिया जा रहा है और जल्द ही हालात काबू में आ जाएगी.

सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत

कश्मीर में पत्थरबाजी और आतंकी हमलों पर सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने बड़ा बयान दिया है. तेलंगाना में पासिंग आउट परेड में शामिल होने गए आर्मी चीफ ने घाटी में पत्थरबाजी की घटनाओं के मद्देनजर कहा कि मानवाधिकारों में पूरा यकीन है और इंडियन आर्मी का इस मामले में बेहतर रिकॉर्ड है लेकिन घाटी के हालात के मुताबिक एक्शन होगा.

आर्मी चीफ ने कहा कि दक्षिणी कश्मीर के कुछ इलाकों में आतंकियों की सक्रियता के कारण समस्याएं हैं लेकिन उसके खात्मे के लिए एक्शन लिया जा रहा है और जल्द ही हालात काबू में आ जाएगी. आर्मी चीफ ने कहा कि हालात को काबू करने के लिए जो भी जरूरी है किया जाएगा. उन्होंने साथ ही कहा कि मानवाधिकारों का हम सम्मान करते हैं और हमारी कोशिश भी रहेगी कि इनका उल्लंघन न हो.

सेना ने कश्मीर में छेड़ा है आतंक के खिलाफ जंग
गौरतलब है कि पिछले कुछ दिनों से घाटी में आतंकी हमले बढ़ने के बाद सेना ने भी एक्शन तेज कर दिया है. शुक्रवार को सेना के ऑपरेशन में लश्कर कमांडर जुनैद मट्टू मार गिराया गया. हिज्बुल कमांडर बुरहान वानी और सबजार के बाद ये सेना की एक और उपलब्धि है.

जीप के बोनट पर युवक को बांधने पर हुआ था विवाद
इससे पहले कश्मीर में उपचुनाव के दौरान पत्थरबाजी रोकने के लिए मेजर गोगोई ने एक स्थानीय युवक को जीप के बोनट पर बांधकर घुमाया था. उमर अब्दुल्ला ने ये फोटो ट्वीट किया था इसके बाद विवाद उठ खड़ा हुआ था. मेजर गोगोई खुद सामने आए थे और कहा कि पोल पार्टी के लोगों की जान बचाने के लिए उन्होंने ये कदम उठाया. सेना प्रमुख ने भी मेजर गोगोई को सम्मानित किया था.

अलगाववादियों पर NIA का शिकंजा
घाटी में अशांति फैलाने के लिए पाकिस्तान से मिल रहे फंड की जांच एनआईए ने शुरू की है. आजतक के स्टिंग ऑपरेशन हुर्रियत में अलगाववादी नेता कैमरे पर पाकिस्तानी पैसे मिलने के बात कबूलते देखे गए थे. इसके बाद गिलानी समेत कई अलगाववादी नेता एनआईए जांच के घेरे में हैं.

LoC पर आर्मी का एक्शन तेज
दूसरी ओर पाकिस्तान की ओर से घुसपैठ की लगातार कोशिशों को विफल करने के लिए नियंत्रण रेखा पर अंडियन आर्मी ने बड़ा ऑपरेशन छेड़ रखा है. सेने ने ऐलान किया कि उन पाकिस्तानी सैन्य चौकियों के खिलाफ भी कार्रवाई की जा रही है जो एलओसी पर आतंकियों को घुसपैठ में मदद कर रहे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें