scorecardresearch
 

Amphan Cyclone 2020: बंगाल-ओडिशा के साथ इन राज्यों में भी होगा 'अम्फान' का असर, अलर्ट जारी

Amphan Cyclone 2020: बंगाल की खाड़ी में उठा चक्रवाती तूफान अम्फान सुपर साइक्लोन में तबदील हो गया है. 185 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार के साथ ये तूफान अगले 48 घंटे में यानी 20 मई को शाम तक पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश के तट से टकरा सकता है.

Amphan Cyclone 2020 (चक्रवाती तूफान अम्फान का खतरा) Amphan Cyclone 2020 (चक्रवाती तूफान अम्फान का खतरा)

  • सुपर साइक्लोन में बदला चक्रवाती तूफान अम्फान
  • अगले 48 घंटों में तटीय इलाकों से टकराएगा तूफान
  • बंगाल-ओडिशा के साथ कई तटीय राज्यों में अलर्ट

बंगाल की खाड़ी से उठा चक्रवाती तूफान अम्फान (Cyclone Amphan) पश्चिम बंगाल और ओडिशा तट की ओर तेजी से बढ़ रहा है. मौसम विभाग (IMD) के मुताबिक अगले कुछ घंटों में ये खतरनाक रूप ले सकता है. बंगाल की खाड़ी में उठा चक्रवाती तूफान अम्फान सुपर साइक्लोन में तबदील हो गया है. 185 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार के साथ ये तूफान अगले 48 घंटे में यानी 20 मई को शाम तक पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश के तट से टकरा सकता है.

पीएम मोदी ने बुलाई हाईलेवल मीटिंग

चक्रवाती तूफान अम्फान अब सुपर साइक्लोन में बदल गया है. जो पश्चिम बंगाल और ओडिशा तट की ओर तेजी से बढ़ रहा है. इस बीच तैयारियों को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उच्चस्तरीय बैठक बुलाई और तैयारियों का जायजा लिया. जिसमें गृह मंत्रालय और एनडीएमए के कई अधिकारी शामिल हुए.

कई राज्यों में अलर्ट जारी

चक्रवाती तूफान अम्फान का असर देश के 8 राज्यों पर पड़ सकता है. जिसे लेकर कई राज्यों में अलर्ट जारी किया गया है. मौसम विभाग ने चक्रवाती तूफान की आशंका को देखते हुए पूर्वी तटों के राज्य तमिलनाडु और पुडुचेरी से लेकर आंध्र प्रदेश, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, त्रिपुरा, मिजोरम, मणिपुर और आस-पास के तटीय इलाकों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है. वहीं, ओडिशा के तटीय जिले हाई अलर्ट पर हैं. मौसम विभाग की ओर से मछुआरों को 18 से 20 तारीख के बीच ओडिशा और बंगाल के तटों के समंदर किनारे ना जाने की सलाह दी गई है.

चक्रवाती तूफान को लेकर तटीय राज्यों में अलर्ट, तेज हवाओं के साथ बारिश की संभावना

amphan_051820015409.jpgतेज रफ्तार से बढ़ रहा तूफान (फोटो-आशीष पांडेय)

कई राज्यों में तेज हवा और बारिश के आसार

चक्रवाती तूफान अम्फान की वजह से ओडिशा और बंगाल के अलावा कई राज्यों में बारिश होने की संभावना है. तमिलनाडु में इसका असर दिखाई देने लगा है. तमिलनाडु में सोमवार को तेज हवा चलने से कई पेड़ गिर गए हैं, वहीं अगले 24 घंटे में अम्फान भारी नुकसान पहुंचा सकता है. इसके अलावा आंध्र प्रदेश में अगले 24 घंटे में भारी बारिश का सामना करना पड़ सकता है. मौसम विभाग के मुताबिक यहां 40 से 45 किलोमीटर की रफ्तार से हवाएं भी चल सकती हैं. तमिलनाडु में भी इसका असाथ ही अंडमान-निकोबार द्वीप समूह में तूफान की वजह से भारी बारिश हो सकती है.

सुपर साइक्लोन में बदल सकता है चक्रवात 'अम्फान', बंगाल-ओडिशा में अलर्ट

rain-alert_051820015511.jpgतटीय इलाकों में बारिश की संभावना (फोटो-आशीष पांडेय)

अगले 24 घंटे में इन इलाकों में बारिश की संभावना

चक्रवाती तूफान अम्फान का आंशिक असर झारखंड में देखने को मिल सकता है. जिसकी वजह से 20 और 21 मई को राज्य के कई जिलों में हल्के से मध्यम बारिश हो सकती है. ओडिशा से सटे प्रदेश के पूर्वी एवं पश्चिमी सिंहभूम, सरायकेला-खरसावां एवं सिमडेगा जिले में तेज हवा के साथ मध्यम दर्जे की बारिश होने की संभावना है. मौसम पूर्वानुमान एजेंसी स्काईमेट के मुताबिक अगले 24 घंटों में केरल, तटीय कर्नाटक और दक्षिणी तमिलनाडु के कुछ हिस्सों में मध्यम से भारी बारिश जारी रहने की उम्मीद है. वहीं, आंतरिक तमिलनाडु, आंतरिक कर्नाटक, मध्य महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ के कुछ हिस्सों, गंगीय पश्चिम बंगाल, ओडिशा और उत्तर पूर्वी राज्यों में कुछ स्थानों पर बारिश के आसार हैं.

बांग्लादेश में भी चक्रवाती तूफान का अलर्ट जारी

बांग्लादेश में चक्रवाती तूफान को लेकर अलर्ट जारी है. चक्रवात 'अम्फान' देश के उत्तर-पश्चिम की ओर आगे बढ़ रहा है. मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक चक्रवाती तूफान धीरे-धीरे तेज हो गया है. भारत में पश्चिम ओडिशा और पश्चिम बंगाल की खाड़ी की ओर तेजी से बढ़ रहा है. बांग्लादेश के मौसम विभाग के मौसम वैज्ञानिक ने कहा कि जिस रफ्तार से तूफान आगे बढ़ रहा है, उससे अनुमान लगाया जा रहा है कि तूफान दो दिनों में तट से टकरा सकता है. यह चक्रवात रविवार की सुबह 6 बजे दक्षिण-पूर्व की खाड़ी में केंद्रित था, जो 6 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ा रहा है.

चक्रवात तूफान अम्फान की वजह से बदला स्पेशल ट्रेनों का रूट

चक्रवाती तूफान अम्फान के खतरे को देखते हुए रेलवे ने भुवनेश्वर से दिल्ली और दिल्ली से भुवनेश्वर रूट पर चलने वाली स्पेशल ट्रेन के रूट में बदलाव किया है. दरअसल, ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने चक्रवाती तूफान की गति और क्षमता को देखते हुए केंद्र सरकार से अनुरोध किया था कि वह चक्रवात 'अम्फान' के रास्ते से होकर गुजरने वाली सभी श्रमिक स्पेशल ट्रेनों को अस्थाई रूप से स्थगित कर दें.

स्पेशल ट्रेनों पर भी चक्रवात 'अम्फान' का असर, बदला रूट

बता दें कि मौसम विभाग द्वारा जारी किए अलर्ट और नवीन पटनायक के अनुरोध पर रेल मंत्रालय ने ट्रेन के रूट में बदलाव का फैसला लिया है. रेलवे द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक अगले 4 दिनों तक भुवनेश्वर-नई दिल्ली-भुवनेश्वर एसी स्पेशल ट्रेन का रूट बदल दिया गया है. यह ट्रेन 18 मई को दिल्ली से रवाना होगी और 21 मई तक बदले हुए रूट पर चलेगी. वहीं भुवनेश्वर से आने वाली एसी स्पेशल ट्रेन 19 मई से 22 मई तक बदले हुए रूट से गुजरेगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें