scorecardresearch
 

फूड पार्क मसले पर स्मृति ईरानी का पलटवार, पूछा- अमेठी के लिए राहुल ने क्या किया?

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने अमेठी में फूड पार्क रद्द करने का मसला संसद में उठाते हुए आरोप लगाया कि मोदी सरकार बदले की राजनीति कर रही है. बाद में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने राहुल पर पलटवार करते हुए पूछा, 'अमेठी के लिए आपने अब तक क्या किया?'

स्मृति ईरानी (फाइल फोटो) स्मृति ईरानी (फाइल फोटो)

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने अमेठी में फूड पार्क रद्द करने का मसला संसद में उठाते हुए आरोप लगाया कि मोदी सरकार बदले की राजनीति कर रही है. बाद में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने राहुल पर पलटवार करते हुए पूछा, 'अमेठी के लिए आपने अब तक क्या किया?'

'फूड पार्क पर सियासत न करें राहुल'
स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी से दो-टूक शब्दों में कहा कि वे फूड पार्क पर सियासत न करें. स्मृति ने कहा कि अमेठी में कई नए प्रोजेक्ट शुरू किए गए हैं. उन्होंने लगे हाथों राहुल गांधी पर यह भी आरोप लगा दिया कि वे अमेठी नहीं, बल्कि सपा सरकार के हित में काम करते रहे.

राहुल गांधी ने लोकसभा में उठाया मुद्दा
राहुल गांधी ने अपने निर्वाचन क्षेत्र अमेठी में प्रस्तावित फूड पार्क परियोजना को रद्द करने का मुद्दा गुरुवार को लोकसभा में उठाया. राहुल गांधी ने शून्यकाल के दौरान कहा, 'चुनाव प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री अमेठी आए थे. उन्होंने 52 मिनट का भाषण दिया था, जिस दौरान उन्होंने कहा था कि वह बदले की राजनीति नहीं करते, बल्कि बदलाव की राजनीति करते हैं.'

राहुल गांधी ने कहा, 'इस देश में राजनेताओं के लिए वादे महत्वपूर्ण हैं, विशेष रूप से वे वादे जो प्रधानमंत्री द्वारा किए जाते हैं. प्रधानमंत्री को अपना वादा याद रखना चाहिए.'

कांग्रेस नेता ने कहा, 'फूड पार्क परियोजना को रद्द किया जा चुका है. फूड पार्क से अमेठी के किसानों की जिंदगी में बड़ा बदलाव आएगा. कृपया इसे रद्द नहीं करें.'

सरकार बदले की राजनीति नहीं करेगी: राजनाथ
केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने राहुल गांधी को भरोसा देते हुए कहा कि प्रतिशोध की राजनीति का कोई सवाल ही नहीं उठता. राजनाथ ने लोकसभा में कहा, 'बदले की राजनीति का सवाल ही पैदा नहीं होता. मैं भी कृषक परिवार से आता हूं. जहां तक मेरे बारे में सूचना जाने की बात है, हो सकता है कि कंपनी ने पार्क बनाने से इनकार कर दिया हो, वह खुद राहुल को इसकी जानकारी देंगे.'

वीके सिंह ने फूड पार्क बंद होने पर राहुल की ली चुटकी
अमेठी में मेगा फूड पार्क बंद करने की खबरों के मुद्दे पर राहुल गांधी द्वारा लोकसभा में मामला उठाए जाने के बाद उन पर निशाना साधते हुए केंद्रीय मंत्री वीके सिंह ने हैरानी जताई कि कांग्रेस नेता के निर्वाचन क्षेत्र में उनकी पार्टी के 60 साल के शासन काल में विकास क्यों नहीं हुआ.

विदेश राज्यमंत्री ने एक ट्वीट में कहा, ‘विकास को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सवाल उठाते राहुल गांधी को देखना मनोरंजक है. आश्चर्य है कि अमेठी में विकास क्यों नहीं हुआ, जब वह कांग्रेस के 60 साल के शासन की बात करते हैं.’

वीके सिंह ने यह हमला ऐसे समय में किया है, जब राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया था कि प्रधानमंत्री प्रतिशोध की राजनीति कर रहे हैं और वो बदलाव की राजनीति नहीं कर रहे, जिसका उन्होंने वादा किया था.

क्या है फूड पार्क...
* फूड पार्क के शिलान्यास के अवसर पर तत्कालीन कृषि और खाद्य प्रसंस्करण राज्य मंत्री चरण दास महंत भी मौजूद थे.

* इस पार्क को 400 करोड़ की लागत से बनाया जाना था.

* इसमें 35 औद्योगिक इकाइयां स्थापना करके इस पार्क से प्रत्यक्ष और परोक्ष रूप से करीब 30 हजार लोगों को रोजगार मिलने की उम्मीद जताई जा रही थी.

* इसमें अमेठी के आस-पास के लगभग 20 जिलों के 30 हजार किसान लाभान्वित होते.

* इस फूड पार्क में जूस, आचार, मुरब्बे जैसी चीजों का प्रोडक्शन होना था, जिससे किसानों को उनकी फसल का उचित मूल्य मिल सके.

* उम्मीद की गई थी की इससे लघु और मध्यम उद्यमियों, स्वसहायता समूहों और किसान समूहों को खाद्य प्रसंस्करण उद्योग स्थापित करने में काफी मदद मिलेगी.

* 30 जून, 2014 को इसे केंद्र ने बंद कर दिया.

* अमेठी के कांग्रेसी नेता और किसानों ने मिलकर जगदीशपुर स्थित इण्डोगल्फ औद्योगिक क्षेत्र में 15 अप्रैल, 2015 को सड़क पर जोरदार प्रदर्शन कर सब्जियों को सड़क पर फेंका था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें