scorecardresearch
 

अयोध्या विवाद पर मुस्लिम पर्सनल बोर्ड की बैठक, SC में मजबूती से पक्ष रखने की तैयारी

ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के प्रमुख सदस्य और मुस्लिम पक्षकार की ओर के वकील जफरयाब जिलानी ने कहा कि मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड जल्द से जल्द सुनवाई के पक्ष में है. इसीलिए कानूनी जानकारों के साथ बैठक की गई है. ये बैठक मुस्लिम पक्ष को कानूनी रूप से मजबूत तरीके से रखने के लिए की गई है.

अयोध्या विवाद अयोध्या विवाद

सुप्रीम कोर्ट में 8 फरवरी से अयोध्या विवाद मामले में होने वाली सुनवाई से पहले मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड अपनी तैयारी में जुट गया है. अयोध्या मामले में SC में सुनवाई से पहले मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की कानूनी विशेषज्ञों के साथ अहम बैठक हुई है. बोर्ड ने कानून विशेषज्ञों के साथ शनिवार को दिल्ली के इंडियन इस्लामिक कल्चरल सेंटर में बैठक की.

जल्द सुनवाई चाहता है AIMPLB

बोर्ड के प्रमुख सदस्य और मुस्लिम पक्षकार की ओर के वकील जफरयाब जिलानी ने कहा कि मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड जल्द से जल्द सुनवाई के पक्ष में है. इसीलिए कानूनी जानकारों के साथ बैठक की गई है. ये बैठक मुस्लिम पक्ष को कानूनी रूप से मजबूत तरीके से रखने के लिए की गई है.

जफरयाब जिलानी ने कहा कि हमारा पक्ष शुरू से यही रहा है कि अयोध्या मामले में जल्द से जल्द सुनवाई शुरू हो. जफरयाब जिलानी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट में इस मामले में विस्तृत सुनवाई हो, सभी दस्तावेजों पर गौर किया जाए और पक्षकारों की बात को भी सुप्रीम कोर्ट पूरी तरह से सुने. इसमें किसी तरह की कोई जल्दबाजी ना हो.

AIMPLB को फैसला अपने पक्ष में होने की उम्मीद

ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सदस्य कमाल फारुकी ने कहा कि हमारी पूरी तैयारी है, हमें उम्मीद है कि फैसला हमारे पक्ष में होगा. बैठक में मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के महासचिव मौलाना वाली रहमानी और सज्जाद नोमानी मौजूद थे. इस बैठक में सुप्रीम कोर्ट के सीनियर वकील मोहम्मद युसूफ मुछाला, वकील ताहिर हकीम, वकील एम आर शमसाद, वकील शकील सैय्यद जफरयाब जिलानी शामिल हुए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें