scorecardresearch
 

नेपाल के रास्ते भारत में घुसपैठ की फिराक में आतंकी, अलर्ट जारी

बॉर्डर पर तैनात एसएसबी के जवान दिन-रात चौकसी कर रहे हैं. कोई भी व्यक्ति बिना पहचान पत्र के भारत में प्रवेश नहीं कर सकता है. एक-एक सामान की जांच की जा रही है. गृह मंत्रालय के घुसपैठ का अलर्ट जारी होने के बाद सुरक्षा व्यवस्था चाक- चौबंद कर दी गई है.

X
भारत-नेपाल सीमा पर अलर्ट भारत-नेपाल सीमा पर अलर्ट

पाकिस्तान पर सर्जिकल स्ट्राइक के बाद आतंकवादी भारत में घुसपैठ कर बड़ी घटना को अंजाम देने के फिराक में हैं. माना जा रहा है कि नेपाल से लगे भारत की खुली सीमा से ये घुसपैठ हो सकती है. ऐसे में आतंकवादियों के नेपाल सीमा से भारत में घुसपैठ करने की खूफिया रिपोर्ट के बाद भारत-नेपाल सीमा पर सुरक्षा काफी कड़ी कर दी गई है.

बॉर्डर पर तैनात एसएसबी के जवान दिन-रात चौकसी कर रहे हैं. कोई भी व्यक्ति बिना पहचान पत्र के भारत में प्रवेश नहीं कर सकता है. एक-एक सामान की जांच की जा रही है. गृह मंत्रालय के घुसपैठ का अलर्ट जारी होने के बाद सुरक्षा व्यवस्था चाक- चौबंद कर दी गई है. भारत-नेपाल सीमा पर चौकसी बढ़ा दी गई है.

भारत के रक्सौल चेक पोस्ट पर एसएसबी के जवान पूरी मुस्तैदी से इस काम में लगे हुए हैं. हर आने-जाने वाले की जांच की जा रही है. चाहे वो मोटर साइकिल पर हो या चार पहिये वाहन पर यहां तक की पैदल बॉर्डर पार जाने वालों की भी जांच की जा रही है. चेक पोस्ट पर एसएसबी के जवानों के साथ-साथ महिला बटालियन को भी लगाया गया है, ताकि महिलाओं की जांच भी की जा सके. रक्सौल का यह चेक पोस्ट भारत-नेपाल के बीच व्यापारिक आवागमन के लिए इस्तेमाल किया जाता है. इसी रास्ते से कई बार आतंकवादी पहले भारत में घुसपैठ कर चुके हैं. इसके मद्देनजर यहां से गुजरने वाली तमाम गाड़ियों की चेकिंग होती है. डॉग स्क्वाड को भी लगाया गया है, जो सामान को सूंघ कर यह देखते हैं कि कोई संदिग्ध सामान विस्फोटक इत्यादि तो नहीं है.

भारत-नेपाल की सीमा पर से कोई भी कहीं से निकल कर भारत में प्रवेश कर सकता है या फिर नेपाल जा सकता है. ऐसे में हर संभावित रास्तों पर चेक पोस्ट लगाए गए हैं और इस छोटे रास्तों से चार पहिया वाहनों के आवागमन पर रोक लगा दी गई है. अब गाड़ियां वहीं से भारत में प्रवेश कर सकती हैं, जो सड़क व्यापार के लिए निर्धारित हैं.

पिछले दिनों भारत-नेपाल सीमा पर लश्कर-ए-तैयबा के पांच आतंकवादियों को खूफिया जानकारी के तहत एनआईए ने गिरफ्तार किया था. उसके बाद फिर दो संदिग्ध पकड़े गए थे. आतंकवादियों की तरफ से भारत में घुसपैठ करने की लगातार कोशिश चल रही है. इसी के मद्देनजर भारत-नेपाल सीमा पर तैनात एसएसबी ने अपनी चौकसी बढ़ा दी है. उधर नेपाल ने भी अपनी तरफ से सुरक्षा को और कड़ी कर दी है. परसा के जिलाधिकारी केशव राज घिमरे ने बताया कि संदिग्धों की धड़-पकड़ के लिए पहचान पत्र की जांच की जा रही है.

एसएसबी के 13वीं बटालियन के डिप्टी कमांडेंट अमित कुमार ने बताया, 'ऐसी सूचना आई है कि पाकिस्तानी आतंकवादी नेपाल के रास्ते भारत में प्रवेश कर सकते हैं. इसी के तहत सीमा पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है.' उन्होंने बताया कि खूफिया इनपुट और तमाम तरह की जानकारियों के तहत यह बताया गया है कि आतंकवादी भारत में प्रवेश करने के लिए चार पहिया वाहनों से प्रवेश कर सकते हैं, जिसमें विस्फोटक भी हो सकता है. इसलिए चार पहिया वाहनों पर विशेष नजर रखी जा रही है. उन्होंने बताया कि व्यापारिक मार्ग छोड़ कर किसी भी मार्ग से चार पहिया वाहनों का भारत में प्रवेश एकदम वर्जित कर दिया गया है. उन्होंने ये भी बताया कि ऐसी आशंका है कि आतंकवादी चार पहिया वाहनों का इस्तेमाल भारत में प्रवेश करने के लिए कर सकते हैं. डिप्टी कमांडेंट ने कहा कि एसएसबी के जवान दिन-रात सीमा की सुरक्षा में लगे हैं और ये दावा किया जा सकता है कि इन रास्तों से कोई आतंकवादी कम से कम भारत मे प्रवेश नहीं कर सकता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें