scorecardresearch
 

ब्याज दरों में बढ़ोतरी बेवजह नहीं: मोंटेक

योजना आयोग ने कहा कि भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा ब्याज दरों में 0.25 प्रतिशत की वृद्धि का फैसला बेवजह नहीं और यह महंगाई को काबू में लाने का संकेत देता है.

X
मोंटेक सिंह आहलूवालिया मोंटेक सिंह आहलूवालिया

योजना आयोग ने कहा कि भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा ब्याज दरों में 0.25 प्रतिशत की वृद्धि का फैसला बेवजह नहीं और यह महंगाई को काबू में लाने का संकेत देता है.

रिजर्व बैंक ने रेपो रेट में 0.25 प्रतिशत बढ़ोतरी की
योजना आयोग के उपाध्यक्ष मोंटेक सिंह आहलूवालिया ने संवाददाताओं से कहा कि रिजर्व बैंक महंगाई को काबू में लाने की अपनी चिंता का संकेत दे रहा है. ब्याज दरों में वृद्धि रेंज में है और यह बेवजह नहीं है.

आजतक LIVE TV देखने के लिए क्लिक करें
अहलूवालिया ने उम्मीद जताई कि वैश्विक स्तर पर अर्थव्यवस्था में कमजोरी से कीमतें नरम होंगी. इससे देश में भी महंगाई का आंकड़ा नीचे आएगा. इसके अलावा इस साल कृषि उत्पादन बेहतर रहने से भी महंगाई घटेगी.

वर्ष 2011 में चार बार बढ़ी पेट्रोल की कीमत...
डालर की तुलना में रुपये में गिरावट से अर्थव्यवस्था पर पड़ने वाले प्रभाव के बारे में पूछे जाने पर अहलूवालिया ने कहा कि विदेशी मुद्रा भंडार काफी ऊंचा है. रुपये की विनिमय दर में गिरावट से घबराहट का कोई कारण नहीं दिखता.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें