scorecardresearch
 

कोयला घोटाले में पैसे की लेनदेन की जांच हो: भाजपा

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने गुरुवार को केंद्र सरकार से जानना चाहा कि कोयला ब्लॉक के कथित गलत आवंटन में पैसे के लेनदेन की जांच के आदेश अब तक क्यों नहीं दिए गए?

प्रकाश जावड़ेकर प्रकाश जावड़ेकर

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने गुरुवार को केंद्र सरकार से जानना चाहा कि कोयला ब्लॉक के कथित गलत आवंटन में पैसे के लेनदेन की जांच के आदेश अब तक क्यों नहीं दिए गए?

भाजपा नेता प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि बाजार सूत्रों के अनुसार, आवंटियों ने प्रत्येक टन कोयले के लिए 50 से 100 रुपये तक की रिश्वत दी.

जावड़ेकर ने कहा, 'वे चाहते हैं कि हम इस पर भरोसा कर लें कि एक करोड़ 70 लाख टन कोयले का आवंटन स्वतंत्र रूप से किया गया. बाजार सूत्र बताते हैं कि प्रति टन कोयले पर 50 से 100 रुपये की रिश्वत दी गई. क्या सरकार इस मामले में न्यायिक जांच कराने के लिए तैयार है?.'

उन्होंने ग्रामीण विकास मंत्री जयराम रमेश को आड़े हाथों लिया, जिन्होंने भाजपा को कोयला ब्लॉक आवंटन पर 'अपने भीतर झांकने' के लिए कहा.

जावड़ेकर ने कहा, 'सबसे पहले जयराम रमेश को एक सवाल का जवाब देना चाहिए कि कोयला ब्लॉक के आवंटन के आदेश पर किसने हस्ताक्षर किये.

दूसरी बात यह कि कांग्रेस हमेशा कहती है कि भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने पत्र लिखा. कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने भी नई नीति (कोयला ब्लॉक की नीलामी) का विरोध किया था. कांग्रेस के नेता उन पत्रों को नहीं दिखा रहे.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें