scorecardresearch
 

राहुल के लिए बहुत कठिन है डगर यूपी की

राहुल गांधी यूपी में अपनी पार्टी की बुनियाद मजबूत कर रहे हैं. लेकिन इस बुनियाद में जो ईंटें रखी जा रही हैं दरार उनमें ही हैं. चुनावी घमासान के बीच कांग्रेस के अंदर इस बात की मारामारी मची है कि किसको कहां से टिकट मिले.

राहुल गांधी राहुल गांधी

राहुल गांधी यूपी में अपनी पार्टी की बुनियाद मजबूत कर रहे हैं. लेकिन इस बुनियाद में जो ईंटें रखी जा रही हैं दरार उनमें ही हैं.

चुनावी घमासान के बीच कांग्रेस के अंदर इस बात की मारामारी मची है कि किसको कहां से टिकट मिले. राहुल हर मंच से अपने कार्यकर्ताओं को पुकार रहे हैं. लेकिन ये कार्यकर्ता हैं कि टिकट के लिए बेकरार हैं.

यूपी में राहुल अपने वर्कर को पुकार रहे हैं. लेकिन राहुल जी आप खुद देखिए कि आपका वर्कर पार्टी की अंदरूनी राजनीति से कितना बेजार है. राहुल हैं कि रैली पर रैली कर रहे हैं, जनता को लगातार कांग्रेस से जोड़ने की कोशिश में लगे हैं. लेकिन राहुल की पार्टी के लोग ही विरोध का झंडा बुलंद किए बैठे हैं.

जाहिर है सियासत और सत्ता की लड़ाई कुर्सी के लिए टिकट के बंटवारे पर ही शुरू होती है और वहीं खत्म. यूपी में राहुल गांधी के लिए भी सबसे बड़ी मुश्किल यही है. मिशन यूपी पर लगे राहुल के लिए पार्टी की अंदरूनी सियासत ही सबसे बड़ी समस्या है. राहुल के कानों में भी ऐसी आवाजें पहुंचने लगीं होंगी और वो भी समझ रहे होंगे कि बहुत कठिन है डगर यूपी की.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें