scorecardresearch
 

स्पेन में मिली यूरोप के सबसे बड़े डायनासोर की खोपड़ी

स्पेन के जीवाश्मिकी फाउंडेशन ने यूरोप में मिली डायनासोर की अब तक की सबसे बड़ी जीवाश्म खोपड़ी पेश की है.

डायनासोर डायनासोर

स्पेन के जीवाश्मिकी फाउंडेशन ने यूरोप में मिली डायनासोर की अब तक की सबसे बड़ी जीवाश्म खोपड़ी पेश की है. समाचार एजेंसी ईएफई के अनुसार, यह खोपड़ी 14 करोड़ 50 लाख वर्षों पहले पृथ्वी पर पाए जाने वाले टूरिएसॉरस रिओडेवेंसिस प्रजाति के सॉरोपोड डायनासोर की है, जो 30 मीटर से भी अधिक लंबा और 40 टन वजनी हुआ करता था.

तेरुएल डायनोपोलिस फाउंडेशन की जीवाश्मिकी प्रयोगशाला में बीते बुधवार को डायनासोर की जो खोपड़ी दिखाई गई, उसमें 35 से अधिक हड्डियां और सात दांत हैं. ये अवशेष रिओदेवा नगरपालिका में बेरीहोंडा-एल हुमेरो से वर्ष 2005 के खुदाई अभियान के दौरान मिले थे.

शोधकर्ताओं के अनुसार इस प्रजाति के डायनासोर की खोपड़ी बहुत नाजुक होती थी. यही वजह है कि ये कम मिलती है. अब तक मिले इस प्रजाति के डायनासोरों के अवशेषों में से प्रत्येक पांच में चार की खोपड़ी नहीं है.

एक विज्ञान पत्रिका 'सिस्टेमैटिक पालेओंटोलॉजी' की रिपोर्ट के मुताबिक, करीब 30-35 मीटर लंबे टूरिएसॉरस रिओडेवेंसिस प्रजाति के डायनासोर आईबेरियन द्वीप में पाए जाते थे.

विशालकाय सॉरोपोड के अवशेष अब तक दक्षिण अमेरिका में अर्जेटीनोसॉरूस, उत्तरी अमेरिका में सेइसमोसॉरूस, अफ्रीका में गिराफाटिटन और पारालिटिटन, एशिया में मामेंचिसॉरूस और यूरोप में टूरिएसॉरस से बरामद किए गए हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें