scorecardresearch
 

भंवरी का पति गिरफ्तार, अब मदेरणा की पेशी

भंवरी देवी गुमशुदगी मामले में हर रोज एक नई कहानी जुड़ती जा रही है. अब भंवरी का पति भी शक के घेरे में हैं. सीबीआई उसे गिरफ्तार कर पूछताछ कर रही है. इस बीच मदेरणा को शुक्रवार को जोधपुर कोर्ट में पेश किया जाएगा.

भंवरी देवी केस में फंसे मदेरणा भंवरी देवी केस में फंसे मदेरणा

भंवरी देवी गुमशुदगी मामले में हर रोज एक नई कहानी जुड़ती जा रही है. अब भंवरी का पति भी शक के घेरे में हैं. सीबीआई उसे गिरफ्तार कर पूछताछ कर रही है. इस बीच मदेरणा को शुक्रवार को जोधपुर कोर्ट में पेश किया जाएगा.

भंवरी के पति अमरचंद का आरोप है कि महिपाल मदरेणा को बचाने के लिए उसे इस मामलें में फंसाया जा रहा है. भंवरी देवी की गुमशुदगी मामले में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने गुरुवार शाम भंवरी के पति अमर चंद को गिरफ्तार कर लिया.

जांच एजेंसी ने महत्वपूर्ण सवालों का संतोषजनक जवाब न देने पर उसे गिरफ्तार किया. अमरचंद ने अपनी पत्नी की गुमशुदगी में पूर्व मंत्री महिपाल मदेरणा की संलिप्तता का आरोप लगाया है.

सीबीआई के एक अधिकारी ने बताया, 'भंवरी देवी के पति अमरचंद को गुरुवार शाम गिरफ्तार किया गया. वह जांच एजेंसी के साथ सहयोग नहीं कर रहा था और पूछताछ के दौरान अलग-अलग बयान दे रहा था.'

इसके पहले, सीबीआई ने बुधवार को जोधपुर के सर्किट हाउस में अमरचंद से पूछताछ की. पूछताछ के दौरान वह फरार हो गया लेकिन जांच एजेंसी के अधिकारियों ने उसे दो घंटों में दबोच लिया. माना जाता है कि सीबीआई उससे गहन पूछताछ करेगी. सूत्रों के मुताबिक सीबीआई के कड़े सवालों का जवाब न दे सकने की स्थिति में अमरचंद ने भागने की कोशिश की.

अमरचंद ने दावा किया है कि उसकी पत्नी का अपहरण पूर्व मंत्री महिपाल मदेरणा के इशारे पर हुआ. एक सीडी में मदेरणा और भंवरी को आपत्तिजनक अवस्था में दिखाया गया है.

इस मामले में अमरचंद की गिरफ्तारी ने सबको चौंका दिया है क्योंकि वह पहला व्यक्ति है जिसने मदेरणा के खिलाफ अपनी पत्नी से बलात्कार, उसकी हत्या और अपहरण का मामला दर्ज कराया. अमरचंद पर संदेह है कि वह गत एक सितम्बर से लापता भंवरी की हत्या के पीछे की साजिश के बारे में जानता है.

सीबीआई के एक प्रवक्ता ने कहा, 'अमरचंद को गिरफ्तार किया गया है और उसे मंगलवार को अदालत में पेश किया जाएगा.' जबकि इस मामले में मदेरणा को तीन दिसम्बर को गिरफ्तार किया गया. मदेरणा के साथ जांच एजेंसी ने कांग्रेस विधायक मलखान सिंह बिश्नोई के भाई परसराम बिश्नोई को भी गिरफ्तार किया है. सीबीआई ने गिरफ्तार तीनों आरोपियों के खिलाफ जोधपुर की एक अदालत में आरोपपत्र दायर किया है.

उल्लेखनीय है कि भंवरी की गुमशुदगी में कथित भूमिका का आरोप लगने के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 16 अक्टूबर को महिपाल मदेरणा को कैबिनेट से हटा दिया था. कहा गया है कि एक सीडी में पूर्व मंत्री भंवरी देवी के साथ आपत्तिजनक अवस्था में है, जिसके आधार पर भंवरी उनको ब्लैकमेल कर रही थी, जिस कारण उन्होंने उसे गायब करवा दिया.

सीबीआई के आरोपपत्र में दावा किया गया है कि 'भंवरी देवी को सीडी के लिए 50 लाख रुपये देने का वादा किया गया था और बाद में उसे अगवा कर लिया गया'. सीबीआई ने आरोपपत्र में कहा है कि उसे संदेह है कि भंवरी की गला दबाकर हत्या कर दी गई.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें