scorecardresearch
 

जीवनरक्षक यात्रा घातक साबित हुई

बीमार राहुल राज की पटना से दिल्ली तक की जीवनरक्षक यात्रा उसकी अंतिम यात्रा साबित हुई और उसके साथ नौ अन्य लोगों की भी मौत हो गई.

बीमार राहुल राज की पटना से दिल्ली तक की जीवनरक्षक यात्रा उसकी अंतिम यात्रा साबित हुई और उसके साथ नौ अन्य लोगों की भी मौत हो गई. दिल्ली पहुंचने से पहले उसे ले जा रहा विमान हरियाणा के फरीदाबाद में बुधवार रात एक मकान से जा टकराया.

राहुल को ले जा रहे नौ सीटों वाले विमान में उसके साथ उसका चचेरा भाई दो डाक्टर एक अन्य चिकित्साकर्मी और चालक दल के दो सदस्य सवार थे. हादसे में विमान में सवार सभी लोगों सहित मकान में रहने वाली तीन महिलाओं की भी मौत हो गई.

बेतिया बिहार निवासी राहुल हेपेटाइटिस से पीड़ित था और कोमा में चले जाने के बाद उसके परिवार ने उसे इलाज के लिए दिल्ली के अपोलो अस्पताल ले जाने का फैसला किया.

राहुल के साथ उसका चचेरा भाई रत्नेश, अपोलो अस्पताल के दो डाक्टर राजेश जैन और अरशद तथा एक अन्य चिकित्साकर्मी शिरिल भी मौजूद था. विमान के पायलटों के नाम मंजीत और हरप्रीत हैं. इस हादसे में इन सभी की जान चली गई. घटना में सभी दस लोगों के शव बुरी तरह झुलस गए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें