scorecardresearch
 

2G, 3G स्पेक्ट्रम की नीलामी 25 फरवरी से

दूरसंचार कंपनियों के लिए 2G और 3G के तहत 800, 900, 1800 और 2100 मेगाहर्ट्ज के स्पेक्ट्रम की नीलामी का अगला चरण 25 फरवरी से शुरू होगा. शनिवार को इस बाबत की गई घोषणा के मुताबिक, दूसरसंचार विभाग द्वारा स्पेक्ट्रम की नीलामी के लिए नोटिस इनवाइटिंग एप्लीकेशंस (एनआईए) शुक्रवार को जारी कर दिया गया.

दूरसंचार कंपनियों के लिए 2G और 3G के तहत 800, 900, 1800 और 2100 मेगाहर्ट्ज के स्पेक्ट्रम की नीलामी का अगला चरण 25 फरवरी से शुरू होगा. शनिवार को इस बाबत की गई घोषणा के मुताबिक, दूसरसंचार विभाग द्वारा स्पेक्ट्रम की नीलामी के लिए नोटिस इनवाइटिंग एप्लीकेशंस (एनआईए) शुक्रवार को जारी कर दिया गया.

गौरतलब है कि 800 मेगाहर्ट्ज बैंड में 103.75 मेगाहर्ट्ज, 900 मेगाहट्र्ज बैंड में 177.8 मेगाहर्ट्ज, 1800 बैंड मेगाहर्ट्ज में 99.2 मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम की नीलामी की जानी है. 800, 900 और 1800 मेगाहर्ट्ज बैंड में कुल 380.75 मेगाहर्ट्ज की नीलामी की जानी है. बयान के मुताबिक, 2100 मेगाहर्ट्ज बैंड से संबंधित जानकारी की घोषणा बाद में की जाएगी.

बयान के कहा गया है कि इस नीलामी में स्पेक्ट्रम की मान्यता 20 वर्षों के लिए होगी. विलंबित भुगतान के विकल्प की भी सुविधा है. कैबिनेट ने सोमवार को स्पेक्ट्रम नीलामी के लिए आगे बढ़ने के लिए दूरसंचार मंत्रालय के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी.

-इनपुट IANS से

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें