scorecardresearch
 

Flood In Assam: बाढ़ की चपेट में असम के 2200 गांव, 16 लाख लोग प्रभावित, अब तक 34 मौतें

Flood In Assam, Brahmaputra River Cross Danger Level: असम के 33 में से 23 जिले बाढ़ की चपेट में आ चुके हैं. इसके कारण 16,03,255 लाख से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं. गांव के गांव खाली कराए गए हैं. लाखों लोगों ने हाइवे को अपना ठिकाना बनाया है.

Flood In Assam, Brahmaputra River Cross Danger Level, Weather Reports, Monsoon Alert Flood In Assam, Brahmaputra River Cross Danger Level, Weather Reports, Monsoon Alert

गर्मी के प्रचंड रूप के बीच अब मॉनसून की एंट्री आधे देश में हो चुकी है. बारिश होते ही नदियों का उफान अपने दायरों से बाहर निकलने लगा है. असम में बारिश और बाढ़ ने लोगों के जीवन को खतरे में डाल दिया है. असम के 33 में से 23 जिले बाढ़ की चपेट में आ चुके हैं. इसके कारण 16,03,255 लाख से अधिक लोग प्रभावित हुए हैं. गांव के गांव खाली कराए गए हैं. लाखों लोगों ने हाइवे को अपना ठिकाना बनाया है.

असम के 23 जिलों के 2200 से ज्यादा गांव बुरी तरह बाढ़ में घिरे हुए हैं. ब्रह्मपुत्र नदी कई स्थानों पर खतरे के निशान से ऊपर बह रही है. उसकी सहायक नदियां भी उफान पर हैं. राज्य सरकार की ओर से 12 से ज्यादा जिलों में 265 से ज्यादा राहत कैंप बनाए गए हैं. इनमें करीब 30 हजार लोगों को रखा गया है. असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (ASDMA) ने कहा कि अब तक 34 लोगों की मौत हो चुकी है.

असम में धेमाजी, लखीमपुर, बिश्वनाथ, चिरांग, दर्रांग, नलबाड़ी, बारपेटा, बोंगाईगांव, कोकराझार, धुबरी, दक्षिण सालमारा, गोवालपारा, कामरूप, कामरूप (मेट्रो), मोरीगांव, नगांव, गोलाघाट, जोरहट, शिवसागर, डिब्रूगढ़, तिनसुकिया और पश्चिमी कर्बी आंगलोंग जिले बाढ़ की चपेट में आ गए हैं.

flood-in-assam_070320090302.jpg

प्राधिकरण के मुताबिक, बाढ़ की सबसे अधिक मार बारपेटा पर पड़ी है जहां करीब 8.60 लाख लोग प्रभावित हुए हैं, जिसके बाद दक्षिण सालमारा में 1.95 लाख, गोवालपारा में 94 हजार से अधिक और मोरीगांव में 62 हजार से अधिक लोग बाढ़ से प्रभावित हैं. जिला प्रशासन और आम लोगों ने पिछले 24 घंटे में 4 जिलों से 2,852 लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला.

flood-in-assam-3_070320090233.jpg

मुख्य सचिव कुमार संजय कृष्णा ने बताया कि राज्य सरकार असम में बाढ़ की स्थिति पर लगातार नजर बनाए हुए है. उन्होंने ट्वीट किया, 'राज्य भर में बचाव, राहत और समय पर निवारण उपाय शुरू किए गए हैं. संकट के इस समय में सरकार हर आवश्यक कदम उठा रही है. पूरे परिदृश्य में सुधार के संकेत दिखाई दे रहे हैं.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें