scorecardresearch
 

जयपुर रेप: बच्ची का हाल जानने अस्पताल पहुंचे सचिन पायलट, बोले- दरिंदा सलाखों के पीछे होगा

पीड़ित बच्ची उसके परिवार से मिलने पहुंचे डिप्टी सीएम ने कहा कि उन्हें इस घटना से पीड़ा हुई है, सचिन पायलट ने कहा कि हैवानियत भरी इस घटना को अंजाम देना वाला दरिंदा जल्द ही सलाखों के पीछे होगा. घटना के दो दिन गुजर जाने के बाद भी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं होने से स्थानीय लोग गुस्से में हैं.

राजस्थान के डिप्टी सीएम सचिन पायलट (फोटो-twitter/SachinPilot) राजस्थान के डिप्टी सीएम सचिन पायलट (फोटो-twitter/SachinPilot)

राजस्थान की राजधानी जयपुर में 7 साल की बच्ची से रेप के मामले में माहौल अभी भी तनावपूर्ण हैं. इस बीच राज्य के डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने बुधवार को अस्पताल पहुंचकर दुष्कर्म पीड़ित बच्ची और उसके परिवार से मुलाकात की. सचिन पायलट ने इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया और कहा की जल्द ही दरिंदगी करने वाला सलाखों के पीछे होगा.

सोमवार शाम हुई इस घटना के बाद जयपुर के लोग बेहद गुस्से में हैं. इन लोगों ने आरोपी की तुरंत गिरफ्तारी की मांग की है. बता दें कि जयपुर के शास्‍त्री नगर थाना क्षेत्र में सोमवार शाम बाइक सवार एक व्यक्ति घर के बाहर खेल रही एक नाबालिग बच्‍ची के पास रुका. इस शख्स ने बच्ची से कहा कि वह उसके पिता का दोस्त है. बच्ची इस शख्स के पास चला गया. आरोप है कि इस शख्स ने अमीनाशाह नाले के पास बच्ची के साथ दुष्कर्म किया और करीब दो घंटे के बाद उसे उसके घर के पास फेंककर चला गया.

पीड़ित बच्ची उसके परिवार से मिलने पहुंचे डिप्टी सीएम ने कहा कि उन्हें इस घटना से पीड़ा हुई है, सचिन पायलट ने कहा कि हैवानियत भरी इस घटना को अंजाम देना वाला दरिंदा जल्द ही सलाखों के पीछे होगा. घटना के दो दिन गुजर जाने के बाद भी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं होने से स्थानीय लोग गुस्से में हैं. डिप्टी सीएम के साथ राज्य सरकार के मंत्री प्रताप सिंह, विधायक इन्द्राज, विधायक अमीन कागजी भी साथ रहे.

इधर माहौल को काबू करने के लिए प्रशासन ने मोबाइल इंटरनेट सेवाओं पर रोक बढ़ा दी है. प्रशासन के मुताबिक अब गुरुवार 10 बजे तक लोग मोबाइल इंटरनेट का इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे. कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए अतिरिक्त पुलिस बलों को तैनात किया गया है. पुलिस कमिश्नर आनंद श्रीवास्तव ने कहा कि आरोपी की गिरफ्तारी के लिए लगातार पुलिस टीम काम कर रही है. पुलिस ने कहा कि अभी हालात नियंत्रण में है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें