scorecardresearch
 

सचिन पायलट सरकार गिराने के लिए किस्तों की डील कर रहे थे, मेरे पास प्रूफ हैं: गहलोत

सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि हमारे विधायकों को पैसे के लालच दिए जा रहे हैं. लोकतंत्र को खत्म करने की साजिश की जा रही है. 30 करोड़ रुपये का ऑफर दिया जा रहा है.

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत

  • अशोक गहलोत ने सचिन पायलट पर साधा निशाना
  • कहा- खुद षड्यंत्र में शामिल होकर सफाई दे रहे हैं

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर विधायकों की खरीद-फरोख्त का आरोप लगाया है. सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि हमारे डिप्टी सीएम सचिन पायलट खुद राजस्थान सरकार गिराने की डील कर रहे थे. हमारे विधायकों को पैसे के लालच दिए जा रहे हैं. मेरे पास सबूत है.

सचिन पायलट पर हमला बोलते हुए अशोक गहलोत ने कहा कि पहले भी हमें अपने विधायकों को 10 दिन तक होटल में रखना पड़ा. अगर उस वक्त हम नहीं रखते तो आज जो मानेसर वाला खेल हुआ है, वो उस समय होने वाला था. रात के दो बजे लोगों को भेजा रहा था. खुद षड्यंत्र में शामिल नेता सफाई दे रहे थे.

सचिन पर बोले गहलोत- अच्छी अंग्रेज़ी बोलने से कुछ नहीं होता, कमिटमेंट मायने रखता है

सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि हमारे डिप्टी सीएम हो या पीसीसी चीफ, उनसे जब खरीद-फरोख्त की जानकारी मांगी गई तो सफाई दे रहे हैं. वह खुद षड्यंत्र में शामिल थे. दिल्ली में बैठे लोगों ने सरकार गिराने की साजिश रची. लोकतंत्र को खत्म करने की साजिश हो रही है. कर्नाटक और मध्य प्रदेश की तरह साजिश हो रही है.

सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि आज सीबीआई, इनकम टैक्स, ईडी का दुरुपयोग किया जा रहा है. हम तो तीसरी बार मुख्यमंत्री बने हैं. 40 साल की राजनीति हो गई. हम तो नई पीढ़ी को तैयार करते हैं. आने वाला कल उनका है. हमारी बहुत रगड़ाई हुई थी. 40 सालों तक जिन्होंने संघर्ष किया, वो आज मुख्यमंत्री, केंद्रीय मंत्री और पार्टी के शीर्ष पर हैं.

पायलट बोले- 5 साल की मेहनत फिर भी गहलोत बने CM, ये सत्ता नहीं आत्मसम्मान की बात

सचिन पायलट पर निशाना साधते हुए अशोक गहलोत ने कहा कि लोग कहते हैं हम नई पीढ़ी को पसंद नहीं करते हैं. राहुल गांधी, सोनिया गांधी और खुद अशोक गहलोत उन्हें पसंद करता है. गवाह है कि जब भी मीटिंग होती है तो मैं युवाओं और एनएसयूआई के लिए लड़ाई लड़ता हूं. इनकी रगड़ाई नहीं हुई थी, इसलिए यह समझ नहीं पा रहे हैं.

सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि इनकी बिना रगड़ाई हुए केंद्रीय मंत्री और पीसीसी चीफ बन गए. अगर रगड़ाई हुई होती तो आज और अच्छा काम करते. आज हमसे अच्छा काम ये कर सकते हैं. अगर ये खुद ही हॉर्स ट्रेडिंग को पसंद करेंगे और उसका हिस्सा बनेंगे तो देश को बर्बाद करेंगे.

राजनीति के इस तिराहे पर खड़े हैं सचिन पायलट, किधर बढ़ाएंगे कदम?

सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि अच्छा हिंदी-इंग्लिश बोलना, अच्छा बयान देना ही सबकुछ नहीं होता है, आपके दिल में क्या है देश के लिए, आपका कमिटमेंट क्या है. पार्टी की नीति, विचारधारा के प्रति आपके कमिटमेंट को देखा जाता है. सोने की छुरी प्लेट में खाने के लिए नहीं होती है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें