scorecardresearch
 

मायावती के विधायक बोले- पैसे लेकर टिकट देती है बसपा, देखें वीडियो

मायावती की बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) के एक विधायक ने अपनी ही पार्टी के खिलाफ सनसनीखेज बयान दिया है. राजस्थान विधानसभा में बसपा विधायक राजेंद्र गुढ़ा ने कहा कि बहुजन समाज पार्टी में पैसे लेकर टिकट दिया जाता है.

बसपा विधायक राजेंद्र गुढ़ा (Photo-ANI) बसपा विधायक राजेंद्र गुढ़ा (Photo-ANI)

मायावती की बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) के एक विधायक ने अपनी ही पार्टी के खिलाफ सनसनीखेज बयान दिया है. राजस्थान विधानसभा में बसपा विधायक राजेंद्र गुढ़ा ने कहा कि बहुजन समाज पार्टी में पैसे लेकर टिकट दिया जाता है और अगर कोई ज्यादा पैसे दे दे तो पहले का टिकट कट कर दूसरे को मिल जाता है. उनके इस बयान का वीडियो न्यूज एजेंसी एएनआई ने जारी किया है. राजेंद्र गुढ़ा उदयपुरवाटी से बसपा विधायक हैं.

उन्होंने अपने बयान में कहा, 'हमारी पार्टी बहुजन समाज पार्टी में पैसे लेकर टिकट दिया जाता है..कोई और ज्यादा पैसे दे देता है तो पहले का टिकट कट कर दूसरे को मिल जाता है. तीसरा कोई ज्यादा पैसे दे देता है तो उन दोनों का टिकट कट जाता है.' उन्होंने आगे कहा, 'पैसे से चुनाव प्रभावित हो रहे हैं. गरीब आदमी चुनाव नहीं लड़ सकता. पार्टियों में टिकट के लिए पैसे का लेन-देन होता है. हमारी पार्टी में भी होता है.'

यह पहली बार नहीं है जब मायावती की बहुजन समाज पार्टी पर पैसे लेकर टिकट बांटने का आरोप लगा हो. इससे पहले कई नेता बसपा पर यह आरोप लगा चुके हैं. पिछले साल उत्तर प्रदेश विधान परिषद के पूर्व सदस्य मुकुल उपाध्याय ने आरोप लगाया था कि बसपा सुप्रीमो मायावती ने उन्हें अलीगढ़ से टिकट देने के बदले पैसे मांगे थे. बसपा से निकाले गए उपाध्याय ने कहा था कि मायावती ने उन्हें टिकट देने के एवज में 5 करोड़ रुपये मांगे थे. साल 2016 में दो पार्टी विधायकों ने पैसे लेकर टिकट देने के आरोप लगाए थे. हालांकि बसपा की ओर से हमेशा इसका खंडन किया गया.

रोमी साहनी और ब्रजेश वर्मा ने आरोप लगाया था कि बसपा की बदनामी इसलिए हो रही है क्योंकि पार्टी टिकट के लिए पैसा मांगा जा रहा है. यह बीआर आंबेडकर और कांशीराम के विचारों के खिलाफ है. दोनों का आरोप था कि 2017 के यूपी विधानसभा में टिकट पाने के लिए उनसे पैसे मांगे गए थे. उनका आरोप था कि बसपा के टिकट के लिए 2 से 10 करोड़ रुपये मांगे जा रहे हैं और मौजूदा विधायकों को भी बख्शा नहीं जा रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें