scorecardresearch
 

जयपुरः 10 लाख की रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ा गया कांस्टेबल, केस में आरोपी न बनाने के बदले मांगी थी रकम

रिश्वत की रकम एनडीपीएस एक्ट (NDPS) के एक मुकदमे में कानपुर के एक दवा कारोबारी को आरोपी नहीं बनाने के बदले में मांगी गई थी.

रंगे हाथ पकड़ा गया कांस्टेबल नरेश चंद्र मीणा रंगे हाथ पकड़ा गया कांस्टेबल नरेश चंद्र मीणा
स्टोरी हाइलाइट्स
  • जयपुर के एक होटल में पकड़ा गया
  • एंटी करप्शन ब्यूरो ने किया गिरफ्तार
  • NDPS एक्ट में फंसाने की दे रहा था धमकी

एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) ने NDPS एक्ट के मुकदमे में फंसाने की धमकी देकर 10 लाख रुपये की रिश्वत लेते हुए एक पुलिस कांस्टेबल को गिरफ्तार किया है. श्रीगंगानगर के जवाहर नगर पुलिस थाने में तैनात पुलिस कांस्टेबल नरेश चंद्र मीणा को जयपुर के एक होटल में रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा गया. 

रिश्वत की रकम एनडीपीएस एक्ट के एक मुकदमे में कानपुर के एक दवा कारोबारी को आरोपी नहीं बनाने के बदले में मांगी गई थी. यह कार्रवाई एसीबी जोधपुर के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नरेंद्र सिंह चौधरी और इंस्पेक्टर मनीष वैष्णव की अगुवाई में टीम ने की.

देखें: आजतक LIVE TV

एसीबी के महानिदेशक भगवान लाल सोनी ने बताया कि मंगलवार सुबह जयपुर में टोंक रोड पर स्थित होटल रेडिसन ब्लू में रिश्वत लेते कांस्टेबल नरेश चंद मीणा को गिरफ्तार किया गया. यूपी में कानपुर के रहने वाले व्यापारी हरदीप सिंह ने 26 अक्टूबर को एसीबी जोधपुर चौकी में शिकायत दर्ज कराई थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें