scorecardresearch
 

गहलोत का पलटवार, कहा- वसुंधरा की गौरव यात्रा नहीं, विदाई यात्रा चल रही

वसुंधरा राजे की गौरव यात्रा के दौरान पथराव और काले झंडे दिखाए जाने की घटना के लिए बीजेपी ने कांग्रेस महासचिव अशोक गहलोत को जिम्मेदार ठहराया है और उन पर हमला बोला है. इससे तमतमाए गहलोत ने भी बीजेपी पर पलटवार किया है और वसुंधरा राजे की गौरव यात्रा को विदाई यात्रा करार दिया है.

जयपुर पहुंचे अशोक गहलोत जयपुर पहुंचे अशोक गहलोत

राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की गौरव यात्रा के दौरान जोधपुर संभाग में पथराव होने और काले झंडे दिखाए जाने की घटना को लेकर आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है. इस घटना के लिए बीजेपी ने सीधे तौर पर कांग्रेस महासचिव और सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को जिम्मेदार ठहराया है. बीजेपी ने गहलोत पर वसुंधरा राजे के खिलाफ साजिश रचने का भी आरोप जड़ा है.

वहीं, रविवार को जयपुर पहुंचे अशोक गहलोत ने भी बीजेपी पर पलटवार किया है. उन्होंने इस पूरी घटना के लिए सूबे की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को दोषी बताया. गहलोत ने कहा कि मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की यह गौरव यात्रा नहीं है. यह तो विदाई यात्रा है. सरकार की विदाई हो रही है. मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने प्रदेश के साथ धोखा किया है. उन्होंने अपने कार्यकाल के दौरान सारे विकास कार्य रोक दिए, जिसके चलते राज्य में कोई विकास कार्य नहीं हुआ.

जोधपुर संभाग में गौरव यात्रा के विरोध और पीपाड़ में पथराव होने की घटना पर गहलोत ने कहा, 'पथराव, विरोध और काले झंडे दिखाने की घटना को लेकर मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कहा है कि हम उनको औकात दिखाएंगे. महारानी जी घमंड में है. अहंकार की भाषा बोल रही हैं. उनको जनता सबक सिखाएगी.'

उन्होंने कहा, 'मुख्यमंत्री जी कभी लहंगा, चुन्नी और पायल पहन रही हैं, तो कभी अलग-अलग वेशभूषा धारण कर रही हैं. ऐसे लगता है, जैसे कोई नई दुल्हन हों. नई दुल्हन को मुंह दिखाई दी जाती है. प्रदेश की जनता ने तय कर लिया है कि वसुंधरा राजे की विदाई होनी चाहिए.'

गहलोत ने कहा, 'जोधपुर की चार विधानसभा में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की गौरव यात्रा स्थगित कर दी गई है और साथ ही बड़ी सभा की तैयारी की जा रही है. उसमें अमित शाह को बुलाया जाना है. अमित शाह कोई बड़े नेता नहीं है. जिनका बेटा जय शाह 50 हजार रुपये को तीन महीने में 80 करोड़ बना दे, वो भला क्या हो सकता है? यह बात तो आप भी समझे हैं.'

उन्होंने कहा, 'वसुंधरा की सभा में अमित शाह आ जाएं या मोदी आ जाएं या फिर कोई और आ जाए. साथ ही यहां पर कैंप लगा लें, लेकिन प्रदेश की जनता ने तो तय कर लिया है कि अब बीजेपी को निश्चित रूप से हराना है. बता दें कि रविवार को कांग्रेस महासचिव अशोक गहलोत रक्षाबंधन के पावन पर्व पर अपनी बहन से राखी बंधवाने के लिए जोधपुर पहुंचे.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×