scorecardresearch
 

Indian Railways: पंजाब में फिर दौड़ेंगी ट्रेनें-मालगाड़ियां, भारतीय रेलवे ने कही ये बात

रेल मंत्रालय (Ministry Of Railways) ने ट्वीट करके जानकारी दी कि जल्द ही पंजाब में ट्रेन सेवाओं को बहाल किया जाएगा.रेलवे ने कहा कि पंजाब में ट्रेन सर्विस शुरू करने से पहले जरूरी मेंटेनेंस और चेकिंग का काम किया जाएगा.

Farm Protest In Punjab: किसानों का प्रदर्शन Farm Protest In Punjab: किसानों का प्रदर्शन
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पंजाब में किसान आंदोलन के चलते रेल सेवा प्रभावित
  • 15 दिन के लिए ट्रैक खाली करने पर सहमत किसान संगठन
  • पंजाब सरकार ने किया रेल सेवाएं बहाल करने का अनुरोध

पंजाब में रेल सेवा और मालगाड़ियों के संचालन का रास्ता साफ हो गया है. अब 23 नवंबर के बाद राज्य में ट्रेन सर्विस शुरू हो जाएगी. दरअसल, पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और प्रदर्शनकारी किसान संगठन के बीच बातचीत के बाद रेलवे ट्रैक खाली करने और रेल सेवा शुरू होने पर सहमति बनी है. बता दें कि पंजाब में कृषि बिल (Farm Bill) के खिलाफ किसान संगठन करीब पौने दो महीने से आंदोलन कर रहे हैं, जिसकी वजह से राज्य में रेल सेवाएं ठप हैं. 

हालांकि, पंजाब के किसान संगठन ने 15 दिनों के लिए ही यात्री ट्रेन सेवा बहाल करने की सहमति दी है. प्रदर्शनकारी किसानों ने कहा कि अगर कृषि बिल वापस लेने की मांग पर विचार नहीं किया गया तो दोबारा आंदोलन शुरू करेंगे.

देखें: आजतक LIVE TV

किसान संगठन के सोमवार से पंजाब के तमाम रेलवे ट्रैकों को खाली करने पर राजी होने के बाद राज्य के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने केंद्र सरकार से राज्य में रेल सेवाएं बहाल करने का अनुरोध किया.

रेल मंत्रालय (Ministry Of Railways) ने ट्वीट करके जानकारी दी कि जल्द ही पंजाब में ट्रेन सेवाओं को बहाल किया जाएगा. ट्रेन संचालन की अनुमति मिलने के बाद रेलवे तैयारी में जुट गया है. रेलवे ने कहा कि पंजाब में ट्रेन सर्विस शुरू करने से पहले जरूरी मेंटेनेंस और चेकिंग का काम किया जाएगा.


गौरतलब है कि कृषि कानून के खिलाफ करीब पौने दो महीने से पंजाब में किसान आंदोलन कर रहे हैं. किसान आंदोलन के कारण राज्य में रेल यातायात बुरी तरह प्रभावित है.

आंदोलनकारी किसानों के रेल परिसर, प्लेटफॉर्म और रेलवे ट्रैक समेत कई जगहों पर डटने की वजह से ट्रेनों का संचालन नहीं हो पा रहा था. पंजाब में किसानों के विरोध-प्रदर्शन के कारण रेलवे को करोड़ों का नुकसान हुआ है.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें