scorecardresearch
 

Abu Dhabi Terror Attack: पंजाब लाए गए युवकों के शव, परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल

मेहता का रहने वाला हरदीप सिंह शादी के बाद अप्रैल में अबू धाबी गया था. हरदीप के परिवार ने बताया कि अप्रैल में ही उसकी शादी हुई थी. वह पैसे कमाने अबू धाबी गया था. वह वहां ड्राइवर था. हरदीप के भाई ने बताया कि आखिरी बार लोहड़ी पर दोनों के बीच बात हुई थी.

X
तस्वीर 17 जनवरी को अबू धाबी में हुए हूती विद्रोहियों के आतंकी हमले की है. तस्वीर 17 जनवरी को अबू धाबी में हुए हूती विद्रोहियों के आतंकी हमले की है.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • एक युवक अमृतसर तो दूसरा मोगा का रहने वाला था
  • शादी के बाद पैसे कमाने अबू धाबी गया था हरदीप

संयुक्त अरब अमीरात की राजधानी अबू धाबी में हुए आतंकी हमले में मारे गए 2 भारतीय नौजवानों का शव आज पंजाब के अमृतसर पहुंचा. दोनों ही पंजाब के रहने वाले थे. एक युवक अमृतसर के मेहता तो दूसरा मोगा जिले का रहने वाला था. दोनों के शव अमृतसर के गुरु रामदास अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंचे.

मेहता का रहने वाला हरदीप सिंह शादी के बाद अप्रैल में अबू धाबी गया था. हरदीप के परिवार ने बताया कि अप्रैल में ही उसकी शादी हुई थी. वह पैसे कमाने अबू धाबी गया था. वह वहां ड्राइवर था. हरदीप के भाई ने बताया कि आखिरी बार लोहड़ी पर दोनों के बीच बात हुई थी. शादी के बाद उसकी पहली लोहड़ी थी, इसलिए उसने पंजाब में जमकर इसका जश्न मनाया था. नहीं पता था कि यह उसकी आखिरी लोहड़ी होगी. उन्होंने बताया कि अबू धाबी की सरकार से उन्हें पूरा सहयोग मिल रहा है. उनके भाई का शव लाया जा रहा है, जो परिवार के सदस्यों के हवाले किया जाएगा.

एयरपोर्ट पर तैनात पुलिस अधिकारी के मुताबिक उन्हें बताया गया था कि अबू धाबी से गुरु रामदास अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर दो शव आ रहे हैं. इसमें से एक अमृतसर के मेहता तो दूसरा मोगा का रहने वाला था. दोनों की मौत अबू धाबी में हुए आंतकी हमले में हुई थी. हमने परिजनों को सूचित किया और शव उन्हें सौंप दिए. बता दें कि 17 जनवरी को अबू धाबी में हूती विद्रोहियों ने दो आतंकी हमले किए थे. इसमें 3 लोग मारे गए थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें