scorecardresearch
 

Shiv Sena खुद छुड़ाना चाह रही अघाड़ी से पीछा? अटकलों के पीछे कितनी सच्चाई

Shiv Sena खुद छुड़ाना चाह रही अघाड़ी से पीछा? अटकलों के पीछे कितनी सच्चाई

इस वक्त एक तरफ 49 विधायकों वाली शिंदे सेना है, तो दूसरी तरफ 13 विधायकों वाली शिवसेना और जो स्थिति बन रही है, वो ये इशारा करती है कि शिवसेना अपने पुरानी साथी बीजेपी के साथ आ सकती है. इसीलिए ये कहा जा रहा है कि जो दिख रहा है वो शिवसेना का दृश्यम है. एकनाथ शिंदे की सेना में सबसे पहले 26 विधायक थे. इसके बाद खबर आई कि 9 और विधायक जुड़ गए, अब पता चल रहा है कि शिंदे सेना में कुल 42 विधायक शिवसेना के हैं और 7 विधायक निर्दलीय है कुल मिलाकर 49 विधायक एकनाथ शिंदे के साथ हैं. शक इस बात पर है कि जब पहली बार में 26 विधायक एकनाथ शिंदे के साथ गए थे, तो उस वक्त शिवसेना ने युद्धस्तर पर तुरंत एक्शन नहीं लिया. यही वजह रही कि धीरे-धीरे और विधायक आराम से शिंदे सेना में पहुंचने लगे. इतना सब होता रहा और शिवसेना के नेतृत्व ने ये होने दिया?

Presently, on one side there is Shinde Sena with 49 MLAs and Shiv Sena on the other side with 13 MLAs. Situations are indicating that Shiv Sena can break its alliance with Aghadi and hold BJP's hand once again. That is why it is being said that what is visible in front of everyone, is not the whole truth. Watch this report.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें