scorecardresearch
 

बंगालः 16 अगस्त से शुरू होगा ममता का 'खेला होबे', 1 लाख फुटबॉल बांटेंगी

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने बुधवार को ही 16 अगस्त को 'खेला होबे दिवस' मनाने की जानकारी दी थी. उन्होंने गुरुवार को इसको लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस में और विस्तार से बताया.

ममता बनर्जी की ये तस्वीर चुनाव प्रचार के वक्त की है. (फाइल फोटो-PTI) ममता बनर्जी की ये तस्वीर चुनाव प्रचार के वक्त की है. (फाइल फोटो-PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 16 अगस्त को मनाया जाएगा खेला होबे दिवस
  • ममता ने बताया, 1 लाख फुटबॉल बांटी जाएंगी

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने बुधवार को ही 16 अगस्त को 'खेला होबे दिवस' मनाने की जानकारी दी थी. उन्होंने गुरुवार को इसको लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस में और विस्तार से बताया. उन्होंने बताया कि 16 अगस्त को खेला होबे दिवस (Khela Hobe Diwas) मनाया जाएगा और ये दिन इसलिए चुना गया है क्योंकि इसी दिन 1970 को कुछ लोग एक स्पोर्ट्स इवेंट में मारे गए थे. सीएम ममता ने बताया कि 16 अगस्त को खेला होबे दिवस के मौके पर प्रदेश के कई फुटबॉल क्लब में 1 लाख फुटबॉल बांटी जाएंगी.

सीएम ममता बनर्जी ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि 16 अगस्त को खेला होबे दिवस मनाया जाएगा और इस दिन 1 लाख से ज्यादा फुटबॉल बांटी जाएंगी. उन्होंने बताया कि 50 हजार से ज्यादा बॉल बनाई जा चुकी हैं. उन्होंने ये भी कहा कि खेलो होबे (Khela Hobe) अब देश में एक बड़ा नारा बन चुका है. उन्होंने ये भी बताया कि 16 अगस्त से 15 सितंबर तक बंगाल सरकार दुआरे सरकार कार्यक्रम भी चलाया जाएगा.

जासूसी कांड पर भी क्या कहा?

इजरायली कंपनी NSO के पेगासस (Pegasus) सॉफ्टवेयर के जरिए फोन टेपिंग के मामले पर भी ममता ने अपनी बात रखी. उन्होंने कहा, पेगासस एक बहुत बड़ी साजिश है. उन्होंने कहा, भारत सरकार अपने अफसरों, मंत्रियों और यहां तक कि RSS नेताओं के फोन भी टेप कर रही थी. सरकार ने कई लोगों के फोन टेप किए. उन्होंने प्रशांत किशोर (Prashant Kishor) के फोन को टेप किया तो मेरा फोन भी टेप कर सकते हैं. उन्होंने कहा सरकार इस मामले की जांच क्यो ंनहीं करा रही है?

ममता का दावाः मीटिंग की जासूसी हुई

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि प्रशांत किशोर के साथ कुछ दिनों पहले हुई उनकी मीटिंग की पेगासस के जरिए जासूसी की गई थी. ममता ने बताया कि कुछ दिनों पहले प्रशांत किशोर और कुछ लोगों के साथ वो मीटिंग कर रही थी और अब जब पेगासस का मुद्दा सामने आया तो प्रशांत किशोर ने अपने फोन का ऑडिट करवाया. उसे पता चला कि उनकी मीटिंग की जासूसी हुई थी और मीटिंग के सारे तथ्य उन्हें मिल गए थे.

ममता बनर्जी ने कहा कि पेगासस अब तक का सबसे बड़ा स्कैंडल है और भारत सरकार को इसकी जांच करानी चाहिए. ममता ने फिर टीम से ढंका हुआ अपना फोन दिखाते हुए कहा कि मोबाइल फोन को प्लास्टर करने का मकसद सांकेतिक विरोध है.

दिल्ली दौरे पर पीएम से मिलेंगी ममता

ममता ने बताया कि वो अगले कुछ दिनों में दिल्ली जाएंगी, जहां वो पीएम मोदी (PM Modi) और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ram Nath Kovind) से मुलाकात करेंगी. पीएम मोदी के साथ उनकी 28 जुलाई को मीटिंग होगी. उनका कहना है कि अगर अनुमति मिली तो वो संसद भी जाएंगी.

अवैध खनन रोकने के लिए आएगी पॉलिसी

सीएम ममता ने बताया कि अभी कई रेत माफिया और कोल माफिया एक्टिव हैं. इसके लिए नई सैंड माइनिंग पॉलिसी और मिनरल माइनिंग पॉलिसी शुरू करने जा रहे हैं, ताकि कोई भी सरकारी संपत्ति का गलत इस्तेमाल न कर सके. 

उन्होंने बताया कि उनकी सरकार टीचर्स के लिए उत्सात्सी (utsatsee) प्रोजेक्ट शुरू करने जा रही है. ये पोर्टल टीचर्स के लिए होगा, जहां वो अपने ट्रांसफर और बाकी चीजों को देख सकेंगे. ऑक्सीजन की कमी से मौत पर उन्होंने कहा कि सरकार झूठ बोल रही है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें