scorecardresearch
 

अमित शाह से आज मिलेंगे पंजाब के CM, किसान आंदोलन पर करेंगे बात

सीएम अमरिंदर सिंह और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की मुलाकात सुबह 9.30 बजे से 10 बजे के बीच होगी. कैप्टन अमरिंदर सिंह सुबह 8 बजे चंडीगढ़ से दिल्ली के लिए रवाना होंगे.

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और गृह मंत्री अमित शाह (फोटो- PTI) पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और गृह मंत्री अमित शाह (फोटो- PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कैप्टन अमरिंदर सिंह और गृह मंत्री अमित शाह की होगी मुलाकात
  • किसान आंदोलन और कृषि कानूनों के मुद्दे पर होगी मुलाकात
  • पिछले 7 दिनों से दिल्ली बॉर्डर पर जारी है किसानों का आंदोलन

कृषि कानूनों और किसान आंदोलन के मुद्दे पर पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह गुरुवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात करेंगे. सीएम अमरिंदर सिंह और अमित शाह की मुलाकात सुबह 9.30 बजे से 10 बजे के बीच होगी. कैप्टन अमरिंदर सिंह सुबह 8 बजे चंडीगढ़ से दिल्ली के लिए रवाना होंगे.

बता दें कि केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का हल्लाबोल जारी है. दिल्ली बॉर्डर पर किसान पिछले सात दिनों से प्रदर्शन कर रहे हैं. वे कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग कर रहे हैं. किसान केंद्र सरकार के इन कानूनों को काला कानून बता रहे हैं. 

वहीं, सरकार किसानों को समझाने में जुटी है. लंबे घमासान के बाद मंगलवार को सरकार और किसान नेताओं की बातचीत हुई. हालांकि, ये बातचीत बेनतीजा रही और गुरुवार को फिर एक बार सरकार और किसानों की मुलाकात है. ये चौथे चरण की बातचीत होगी. हर किसी की नजर आज होनी वाली इस बातचीत पर होगी.

क्या आज की बैठक में कोई नतीजा निकलता है. क्या सरकार किसानों को समझाने में सफल होगी. क्या होगा किसानों के आंदोलन का. जारी रहेगा या सरकार से किसी प्रकार का आश्वासन मिलने के बाद इसे समाप्त कर दिया जाएगा. इन सभी सवालों के जवाब आज की बैठक से मिलने तय माने जा रहे हैं. 

देखें: आजतक LIVE TV 

इससे पहले मंगलवार की बैठक में किसानों से बातचीत के दौरान सरकार ने कृषि कानूनों पर चर्चा के लिए समिति बनाने का सुझाव रखा, लेकिन किसानों ने इस प्रस्‍ताव को ठुकरा दिया. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने किसान संगठनों से कहा कि 4 से 5 नाम अपने संगठन से दें. एक समिति बना देते है जिसमें सरकार के लोग भी होंगे, कृषि एक्सपर्ट भी होंगे, नए कृषि कानून पर चर्चा करेंगे.

किसानों ने सरकार के इस प्रस्‍ताव को ठुकरा दिया. इससे पहले सरकार की ओर से एमएसपी और एपीएमसी एक्ट पर किसान प्रतिनिधियों के सामने प्रजेंटेशन दिया गया था.

ये भी पढ़ें

 
 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें