scorecardresearch
 

कृषि कानून पर विपक्ष का दोहरा चरित्र, किसानों की जमीन न बिकेगी-न बंधक होगी: रविशंकर प्रसाद

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि किसान आंदोलन में गैर विपक्षी दल भी कूद गए हैं. ये लगातार चुनाव हार रहे हैं, इसलिए सरकार के विरोध में खड़े हो जाते हैं और अपने अतीत को भूलते हुए अपने वादे भूल जाते हैं.

X
केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद (फाइल फोटो-PTI) केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद (फाइल फोटो-PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • विपक्ष पर रविशंकर प्रसाद ने साधा निशाना
  • कहा- किसानों को भ्रमित कर रहा है विपक्ष

कृषि कानूनों को लेकर किसानों का प्रदर्शन जारी है. इस बीच भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने विपक्ष पर जमकर निशाना साधा. केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि किसान आंदोलन में गैर विपक्षी दल भी कूद गए हैं. ये लगातार चुनाव हार रहे हैं, इसलिए सरकार के विरोध में खड़े हो जाते हैं और अपने अतीत को भूलते हुए अपने वादे भूल जाते हैं.

बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि कांग्रेस ने 2014 के मैनिफेस्टो में APMC एक्ट को समाप्त करेगी. 2014 में कांग्रेस ने अपने मैनिफेस्टो में इंग्लिश में लिखा हैं कि APMC एक्ट को Repeal करेगी और हिंदी में लिखा कि हम इस कानून में संशोधन करेंगे, जो हम कर रहे हैं.

APMC एक्ट में संशोधन करना चाहती थी UPA

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा, 'राहुल गांधी ने 2013 में कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों की बैठक बुलाई थी, जिसमें कहा था कि किसान मंडियों को फ्री कर देना चाहिए. पूर्व कृषि मंत्री शरद पवार ने APMC एक्ट से बदलने से लेकर किसान मंडियों को फ्री करने के लिए कई मुख्यमंत्रियों को चिट्ठी लिखी थी.' 

रविशंकर प्रसाद ने शरद पवार-अखिलेश पर साधा निशाना

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा, 'शरद पवार ने एक इंटरव्यू में कहा था कि APMC एक्ट में बदलाव किए तो अर्थव्यवस्था पर असर पड़ेगा. अखिलेश यादव आपको याद दिलाऊंगा कि कृषि संबंधित मामलों की संसदीय समिति में आपके पिता और समाजवादियों की अंतिम आवाज मुलायम सिंह यादव ने भी कहा कि किसानों को मंडी कल्चर से बाहर आना जरूरी थी.'

देखें: आजतक LIVE TV

कृषि कानून पर विपक्ष का दोहरा चरित्र

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा, 'इन विपक्षी दलों को भले ही किसान संगठन नहीं बुलाते हैं, लेकिन ये फिर भी जाना चाहते हैं. किसानों की आमदनी को बढ़ाने के लिए समय-समय पर अलग-अलग राज्यों ने कांट्रैक्ट फार्मिंग को लागू किया. इसमें अधिकतर कांग्रेस शासित प्रदेश थे. योगेन्द्र यादव ने 2017 में ट्वीट किया था कि APMC एक्ट में बदलाव क्यों नहीं हो रहा है. 

लीज पर नहीं ली जाएगी किसानों की जमीन

विपक्ष पर निशाना साधते हुए केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा, 'मैं कानून मंत्री के तौर पर कह रहा हूं कि ना किसानों की जमीन को बंधक बनाया जायेगा और ना ही लीज पर लिया जायेगा. हमने किसानों को डिजिटल मंडी दी है, जिसमें अभी एक लाख करोड़ का व्यापार होता है. किसानों को भ्रमित करने की कोशिश की जा रही है.'

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें