scorecardresearch
 

किसान नेताओं का दावा-हमारे मुद्दों को हल्के में ले रही सरकार

नई दिल्ली | 23 दिसंबर 2020, 6:59 PM IST

किसानों के आंदोलन के 28वें दिन भी कोई बात नहीं बनी. सरकार अपने इरादे पर अडिग है तो किसान तीनों नए कानून वापस लेने की मांग पर डटे हैं. सरकार ने एक बार फिर बातचीत का प्रस्ताव भेजा, लेकिन किसान ने बातचीत का प्रस्ताव ठुकरा दिया. सिंघु बॉर्डर पर 40 किसान संगठनों की बैठक में फैसला लिया गया.

किसानों ने सरकार का प्रस्ताव ठुकराया (PTI) किसानों ने सरकार का प्रस्ताव ठुकराया (PTI)
6:59 PM (4 महीने पहले)

सरकार देरी कर रहीः भारतीय किसान यूनियन

Posted by :- Surendra Verma

भारतीय किसान यूनियन के युधवीर सिंह ने कहा कि जिस तरह से केंद्र बातचीत की प्रक्रिया को आगे बढ़ा रहा है, इससे स्पष्ट है कि सरकार इस मुद्दे पर देरी करना चाहती है और विरोध करने वाले किसानों का मनोबल तोड़ना चाहती है. सरकार हमारे मुद्दों को हल्के में ले रही है, मैं उन्हें इस मामले का संज्ञान लेने के लिए चेतावनी दे रहा हूं और जल्द ही इसका हल निकालूंगा.

 

5:56 PM (4 महीने पहले)

सरकार ठोस प्रस्ताव लिखित में भेजेंः योगेंद्र यादव

Posted by :- Surendra Verma

बातचीत के लिए सरकार की ओर से भेजे गए प्रस्ताव को किसान संगठनों ने ठुकरा दिया है. 40 किसान संगठनों की बैठक के बाद आयोजित पीसी में योगेंद्र यादव ने कहा कि हम तीनों कृषि कानूनों में किसी भी प्रकार के बदलाव की बात नहीं कर रहे हैं बल्कि तीनों कानूनों को निरस्त करने की मांग करते हैं. न्यूनतम समर्थन मूल्य को लेकर जो प्रस्ताव सरकार से आया है उसमें कुछ भी साफ नहीं है और स्पष्ट नहीं है. उन्होंने कहा कि सरकार ठोस प्रस्ताव लिखित में भेजें और खुले मन से बातचीत के लिए बुलाए.

5:16 PM (4 महीने पहले)

हरियाणा सरकार से समर्थन वापस लें विधायक

Posted by :- Surendra Verma

आंदोलनरत किसानों के द्वारा बुलाए गए किसान दिवस के आंदोलन के दौरान हरियाणा के फतेहाबाद में हजारों की संख्या में किसान इकट्ठा हुए और एक किसान पंचायत बुलाई गई. इस दौरान किसानों ने कुछ देर के लिए सांकेतिक धरना भी दिया और फतेहाबाद शहर के बीचों-बीच सड़कों को भी जाम किया और इसके बाद बीजेपी के स्थानीय विधायक दूड़ाराम के घर जाकर उनको ज्ञापन सौंपा और उन्हें कहा कि किसानों और मजदूरों के वोट हासिल करके वो विधायक बने हैं. ऐसे में जब केंद्र सरकार किसान और मजदूरों के खिलाफ कृषि कानूनों को लेकर आ रही है तो तमाम विधायकों को भले ही वो बीजेपी के हो या बीजेपी को समर्थन दे रही जननायक जनता पार्टी के या फिर निर्दलीय विधायक, सभी को हरियाणा सरकार से समर्थन वापस ले लेना चाहिए.

4:10 PM (4 महीने पहले)

लेफ्ट दलों को दोहरा रवैया जगजाहिर- संबित पात्रा

Posted by :- Surendra Verma

भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि 25 दिसंबर को 9 करोड़ किसानों के खाते में 18 हजार करोड़ भेजे जाएंगे. उन्होंने कहा कि लेफ्ट दलों को दोहरा रवैया जगजाहिर रहा है. लेफ्ट किसानों के कंधे पर राजनीति कर रहा है. लेफ्ट की सरकारों ने किसानों पर अत्याचार कर रहे हैं.

4:02 PM (4 महीने पहले)

यूपी में ढाई हजार चौपालों के साथ PM मोदी

Posted by :- Surendra Verma

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती पर 25 दिसंबर को पूरे उत्तर प्रदेश में ढाई हजार किसानों के चौपाल के साथ जुड़ेंगे. बीजेपी पूरे प्रदेश में ढाई हजार से अधिक जगहों पर किसानों से संपर्क का अभियान चलाएगी जिसमें प्रधानमंत्री वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जुड़ेंगे.

3:39 PM (4 महीने पहले)

कई यूनियनों का कानून को समर्थनः कृषि मंत्री

Posted by :- Surendra Verma

कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर किसान दिवस के अवसर पर कहा कि कई यूनियनों ने कृषि कानून का समर्थन किया है. जबकि एक संगठन ने 3 लाख किसानों का सपोर्ट हमें सौंपा है. उन्होंने कहा कि सरकार ने सुधार के लिए कई कदम उठाए हैं. बातचीत से ही मुद्दे हल हो सकते हैं. सरकार खुले मन से बातचीत के लिए तैयार है.

2:40 PM (4 महीने पहले)

MP पहुंचा महाराष्ट्र के किसानों का जत्था

Posted by :- Vishal Kasaudhan

दिल्ली की सीमाओं पर चल रहे किसान आंदोलन में हिस्सा लेने के लिए महाराष्ट्र से चला किसानों का जत्था आज मध्य प्रदेश में प्रवेश कर गया. इसका मेधा पाटकर के नेतृत्व में एनएपीएम और नर्मदा बचाओ आंदोलन के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने स्वागत किया गया. यह जत्था आज रात राजस्थान के कोटा में पहुंचेगा, जहां दुली चंद की अगुवाई में एआईकेएस इकाई द्वारा इसका स्वागत किया जाएगा. कल दोपहर में यह जत्था दिल्ली बॉर्डर पर पहुंच सकता है. इस जत्थे में एक हजार किसान अपनी 50 से अधिक गाड़ियों के साथ शामिल हैं.

2:11 PM (4 महीने पहले)

किसान संगठनों की बैठक शुरू

Posted by :- Vishal Kasaudhan

किसान संगठनों की बैठक शुरू हो गई है. इस बैठक में फैसला लिया जाएगा कि सरकार से बातचीत करनी है या नहीं. अगर करनी है तो सरकार के सामने क्या प्रपोजल रखा जाएगा और नहीं करनी है तो आगे की रणनीति क्या होगी. इस बैठक से पहले किसान नेता गुरनाम सिंह चढुनी ने कहा किसरकार अपने रुख पर अड़ी हुई है, हम भी अपनी मांग पर अड़े हैं. हम सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त समिति को भी स्वीकार नहीं करते हैं, अगर वह बनाई जाती है. अगर सरकार बात करना चाहती है कि वे कानूनों को निरस्त क्यों नहीं करती है.

1:21 PM (4 महीने पहले)

UP में कांग्रेस का थाली पीटकर आंदोलन शुरू

Posted by :- Vishal Kasaudhan

किसान दिवस पर कांग्रेस का कृषि कानून के खिलाफ प्रदर्शन शुरू हो गया है. थाली पीटकर किसानों के समर्थन में कांग्रेस ने आंदोलन शुरू किया है. प्रदर्शन को देखते हुए कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को हाउस अरेस्ट कर लिया गया है. 

1:20 PM (4 महीने पहले)

किसानों के समर्थन में आप का प्रदर्शन

Posted by :- Vishal Kasaudhan

किसानों के समर्थन में आम आदमी पार्टी (आप) के कार्यकर्ता आज प्रदर्शन कर रहे हैं. इस वजह से दिल्ली पुलिस ने ट्रैफिक एडवाइजरी जारी की है. इसके अनुसार सफदरजंग मदरसा से लोधी फ्लाईओवर तक लोधी रोड को बंद कर दिया गया है. यह रूट अगले 3-4 घंटे तक बंद रहेगा.

1:17 PM (4 महीने पहले)

किसानों से मिलने पहुंचा तृणमूल कांग्रेस का प्रतिनिधिमंडल

Posted by :- Vishal Kasaudhan

सिंघु बॉर्डर पर प्रदर्शन कर रहे किसानों से मिलने तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) सांसदों का एक प्रतिनिधिमंडल पहुंचा है. इसमें प्रतिनिधिमंडल में डेरेक-ओ-ब्रायन, शताब्दी रॉय, प्रसून बनर्जी, प्रतिमा मंडल और मोहम्मद नदीमुल हक शामिल हैं. तृणमूल सांसदों का कहना है कि हम सीएम ममता बनर्जी के आदेश पर किसानों के समर्थन में यहां आए हैं.

12:40 PM (4 महीने पहले)

कृषि मंत्री की चिट्ठी लेकर घर-घर जाएंगे बीजेपी कार्यकर्ता

Posted by :- Vishal Kasaudhan

किसानों आंदोलन के बीच भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने नए कृषि कानूनों के समर्थन में अपना अभियान तेज कर दिया है. उत्तर प्रदेश में 26 और 27 दिसंबर को बीजेपी के कार्यकर्ता घर-घर जाएंगे और केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर की चिट्ठी को दिखाकर किसान हित में किए कार्यों को गिनाएंगे. इसके साथ ही मलिन बस्तियों में केंद्र की योजनाओं को बताएंगे.

12:38 PM (4 महीने पहले)

दिल्ली रवाना हो रहे थे पीलीभीत के किसान, समझाने पहुंचे डीएम-एसपी

Posted by :- Vishal Kasaudhan

उत्तर प्रदेश के पीलीभीत के किसान आज दिल्ली घेरने के लिए रवाना होने लगे तो डीएम और एसपी मौके पर पहुंच गए हैं. पूरनपुर के गुरुद्वारे में प्रशासन और किसान संगठनों के बीच बातचीत चल रही है. बीते सोमवार को एक बड़ा जत्था किसानों का दिल्ली रवाना हुआ था. उसके बाद से ही डीएम-एसपी पूरनपुर में कैम्प किए हुए हैं.

11:30 AM (4 महीने पहले)

किसानों की खुशहाली के लिए कदम उठा रही है सरकार: CM योगी

Posted by :- Vishal Kasaudhan

किसान दिवस के मौके पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि नए कृषि कानूनों से किसान ज्यादा मुनाफा कमाने के लिए देश की किसी भी जगह अपनी उपज को बेच सकता है. हम निरंतर किसानों के जीवन में खुशहाली लाने का काम कर रहे है, केंद्र की सरकार भी दिन रात लगी है, हम किसानों के सम्मान के लिए हर कदम उठा रहे हैं.

10:30 AM (4 महीने पहले)

किसानों ने बनाई पांच सदस्यों की कमेटी

Posted by :- Vishal Kasaudhan

संयुक्त किसान मोर्चा ने पांच सदस्यों की एक कमेटी बनाई है. इस कमेटी में प्रेम सिंह भंगू, हरेंद्र सिंह लक्खोवाल और कुलदीप सिंह शामिल हैं. किसान नेताओं की यह कमेटी तय करेगी की सरकार से जो प्रस्ताव बातचीत का मिला है, उस पर बातचीत हो या नहीं और अगर हो तो उसकी रूपरेखा क्या हो.

यह पांच सदस्यीय कमेटी सरकार के प्रपोजल को लेकर ड्राफ्ट तैयार करेगी और उसके बाद उस ड्राफ्ट को लेकर 40 किसान नेताओं की मीटिंग होनी है. उस मीटिंग में इस ड्राफ्ट को रखा जाएगा. संयुक्त किसान मोर्चा की मीटिंग आज दोपहर 2:00 बजे होगी. इस मीटिंग में यह फैसला लिया जाएगा कि सरकार से बातचीत हो या नहीं और अगर हो तो उसकी रूपरेखा क्या हो.

9:57 AM (4 महीने पहले)

राकेश टिकैत बोले- हम बातचीत के लिए तैयार हैं

Posted by :- Vishal Kasaudhan

गाजीपुर बॉर्डर पर डटे भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि आज एक महान किसान नेता चौधरी चरण सिंह की जयंती है. इसे किसान दिवस के रूप में मनाया जाता है. कृषि कानूनों को लेकर गतिरोध बातचीत से ही सुलझेगा. अगर सरकार चाहती है तो हम बातचीत के लिए तैयार हैं. हम कानून में संशोधन नहीं वापसी चाहते हैं.
 

किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि ब्रिटिश पीएम को चिट्ठी लिखना हमारा एजेंडा नहींं है और न हम चाहते हैं कि वह किसानों का मसला सुलझने तक भारत न आएं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बिजनेसमैन से कह रहे हैं कि कृषि कानून बहुत अच्छे हैं, लेकिन वह किसानों के बीच नहीं आ रहे हैं.

9:13 AM (4 महीने पहले)

राजनाथ बोले- सरकार संवेदनशीलता के साथ किसानों से कर रही है बात

Posted by :- Vishal Kasaudhan

किसान दिवस के मौके पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि किसान दिवस पर मैं देश के किसानों को शुभकामनाएं देता हूं. उन्होंने देश को खाद्य सुरक्षा प्रदान की है. कुछ किसान नए कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे हैं. सरकार पूरी संवेदनशीलता के साथ उनसे बातचीत कर रही है. मुझे उम्मीद है कि वे जल्द ही अपना आंदोलन समाप्त करेंगे. 

8:40 AM (4 महीने पहले)

सिंघु बॉर्डर पर फूंका जाएगा CM योगी का पूतला

Posted by :- Vishal Kasaudhan

उत्तर प्रदेश के पीलीभीत और मुरादाबाद में किसानों पर लाठीचार्ज से सिंघु बॉर्डर पर डटे किसान संगठन नाराज हैं. इस नाराजगी को जाहिर करने के लिए आज दोपहर 11 बजे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का पूतला फूंका जाएगा. इसको लेकर किसान संगठनों की ओर से पूरी तैयारी कर ली गई है.
 

8:37 AM (4 महीने पहले)

किसानों को अपमानित करना छोड़े बीजेपी: अखिलेश

Posted by :- Vishal Kasaudhan

पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह की जयंती पर किसान दिवस मनाया जाता है. आज किसान दिवस है. समाजवादी पार्टी ने आज उत्तर प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों में किसानों के समर्थन में कार्यक्रम का ऐलान किया है. इस कार्यक्रम से पहले सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्विट करके कहा, 'चौधरी चरण सिंह जी की जयंती पर उन्हें कोटि-कोटि नमन!  आज भाजपा के राज में देश के इतिहास में एक ऐसा ‘किसान दिवस’ आया है, जब उत्सव के स्थान पर देश का किसान सड़कों पर संघर्ष करने पर मजबूर है.  भाजपा किसानों का अपमान करना छोड़े क्योंकि ‘देश का किसान, भारत का है मान’.' 

8:35 AM (4 महीने पहले)

बॉर्डर पर बढ़ रही है किसानों की संख्या

Posted by :- Vishal Kasaudhan

दिल्ली पुलिस का कहना है कि सीमा पर लगातार प्रदर्शनकारी किसानों की संख्या बढ़ती जा रही है, लेकिन हालात तनाव में हैं. वही दूसरी ओर इस गतिरोध को दूर करने के लिए सरकार की कोशिशें जारी हैं. कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा है कि जल्द ही इस संकट का समाधान मिलने की उम्मीद है. मंगलवार को सिंघु बॉर्डर पर जमे किसानों ने पीएम नरेंद्र मोदी के नाम खून से चिट्ठी लिखकर कानून वापस लेने की मांग की. उधर, गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों ने मंगलवार को फिर से जाम लगा दिया. देर शाम पुलिस-प्रशासन से बातचीत के बाद एक सड़क खोली गई.