scorecardresearch
 

UP: PM मोदी के बर्थडे पर BJP का 'मेगा शो', 27 हजार बूथों पर प्रोग्राम, भेजेगी 5 करोड़ पोस्ट कार्ड

पीएम नरेंद्र मोदी के जन्मदिन को बेहद खास बनाने के लिए बीजेपी ने अभी से तैयारी शुरू कर दी है. यूपी में 27 हजार से भी ज्यादा बूथों पर कार्यक्रमों का आयोजन होगा. वहीं गंगा नदी में 71 स्थानों पर सफाई अभियान चलाया जाएगा.

17 सितंबर को है पीएम मोदी का जन्मदिन (फाइल फोटो) 17 सितंबर को है पीएम मोदी का जन्मदिन (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 17 सितंबर से चलेगा सेवा और समर्पण अभियान
  • जिला मुख्यालयों पर स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का होगा आयोजन
  • आभार के रूप में भेजे जाएंगे पांच करोड़ पोस्ट कार्ड

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जन्मदिन मनाने के लिए बीजेपी ने इस बार बेहद खास तैयारी की है. कार्यकर्ताओं को अभी से इस 'मेगा शो' को सफल बनाने के लिए जुट जाने के लिए कहा गया है. 71वें जन्मदिन के मौके पर यूपी में ही 27 हजार से अधिक बूथों पर कार्यक्रम होंगे. तो वहीं गंगा नदी में भी 71 स्थानों पर सफाई अभियान चलाया जाएगा.   

मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री के रूप में पूरे होंगे 20 साल

बीजेपी ने पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा के नेतृत्व में पीएम मोदी के जन्मदिन 17 सितंबर से सेवा और समर्पण अभियान चलाने का फैसला किया है. यह अभियान 7 अक्टूबर तक चलेगा. PM मोदी 7 अक्टूबर 2001 को गुजरात के मुख्यमंत्री बने थे और इस साल 7 अक्टूबर को एक मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री के रूप में काम करते हुए 20 वर्ष पूरे कर लेंगे. बीजेपी नेतृत्व के अनुसार ऐसे बहुत कम नेता हैं जिन्हें जनसेवा का यह अवसर मिला है.  

बीजेपी चलाएगी सेवा और समर्पण अभियान

बीजेपी ने इस सेवा और समर्पण अभियान के लिए कई कार्यक्रम चलाने का फैसला किया है. बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने इसके लिए पार्टी की सभी राज्य इकाइयों को निर्देश जारी किए हैं. बीजेपी के सभी प्रदेश और जिला कार्यालयों पर पीएम मोदी के व्यक्तित्व व कृतित्व को लेकर प्रदर्शनी लगाई जाएगी. नमो ऐप पर वर्चुअल प्रदर्शनी होगी जिसमें पीएम मोदी के बारे में बताया जाएगा. दिव्यांगों को कृत्रिम अंग और उपकरण वितरित करने को कहा गया है तथा जिला मुख्यालयों पर स्वास्थ्य परीक्षण शिविर आयोजित होंगे. गरीब बस्तियों, अनाथालयों, अस्पतालों और वृद्धाश्रमों में फलों का वितरण करने को कहा गया है. 

ये भी पढ़ें- पीएम मोदी के 71वें जन्मदिन पर गुजरात के 7100 गांवों में गूंजेगी 'रामधुन', बीजेपी का है ये खास प्लान
 

(तस्वीर- साल 2014 में जब पहली बार पीएम नरेंद्र मोदी की अगुवाई में बीजेपी ने प्रचंड जीत हासिल की थी.)

यूपी में बूथ विजय अभियान

यूपी बीजेपी के प्रदेश पदाधिकारियों की गुरुवार को लखनऊ में बैठक हुई. इस बैठक में 11 सितम्बर से शुरू किये जाने वाले बूथ विजय अभियान, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्मदिन से पार्टी द्वारा शुरू किये जाने वाले सेवा समर्पण अभियान, राज्य की भाजपा सरकार के साढ़े चार वर्ष पूर्ण होने पर आयोजित होने वाले अभियान सहित आगामी संगठनात्मक कार्यक्रमों व अभियानों पर कार्य योजना बनी. 

27700 शक्ति केंद्रों पर नड्डा करेंगे संवाद

बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा 11 सितम्बर को बूथ विजय अभियान का शुभारम्भ करेंगे. नड्डा प्रदेश के सभी 27700 शक्ति केन्द्रों पर उपस्थित पार्टी के प्रदेश से लेकर बूथ तक के पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं सहित जनप्रतिनिधियों से शाम 4 बजे वर्चुअल प्लेटफार्म पर संवाद कर अभियान का शुभारम्भ करेंगे. 

इसके साथ ही 11 सितम्बर से 20 सितम्बर तक पन्ना प्रमुख बनाने का काम भी पार्टी पूरा करेगी. बैठक में तय किया गया कि 19 सितंबर को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में राज्य की भाजपा सरकार के साढ़े चार वर्ष पूरे होने पर प्रदेश के सभी 27700 शक्ति केन्द्रों पर चौपाल लगाकर सरकार की योजनाओं और निर्णयों को जनता के दरबार में पहुंचाया जाएगा. वहीं 20 सितंबर को सभी विधायक अपनी विधानसभा में किये गए विकास कार्यों व उपलब्धियों को लेकर जनता के बीच जाएंगे. इसके साथ ही 26 सितंबर से पार्टी के पदाधिकारी व कार्यकर्ता भाजपा सरकार की उपलब्धियां घर-घर सम्पर्क कर बताएंगे. इसके साथ ही 2 अक्टूबर को महात्मा गांधी जी की जयंती पर मण्डल स्तर पर स्वच्छता अभियान चलाया जाएगा.

प्लास्टिक मुक्त भारत बनाने का संकल्प

सेवा और समर्पण अभियान के लिए सभी पदाधिकारी प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत राशन बैग बांटेंगे. पदाधिकारियों से कहा गया है कि वे राशन केंद्रों पर जाएं और लाभार्थियों का वीडियो बना कर पीएम मोदी के प्रति अपना आभार व्यक्त करें. रक्त दान शिविर आयोजित करने और प्लास्टिक मुक्त भारत के प्रति जागरुकता अभियान चलाने का निर्देश भी दिया गया है. इसी तरह टीकाकरण केंद्रों पर जाकर लोगों को जागरूक करने तथा टीका लगवाने वालों का प्रधानमंत्री के प्रति आभार व्यक्त करने का वीडियो रिकॉर्ड करने को कहा गया है. 

 

(तस्वीर- साल 2014 के बाद साल 2019 में एक बार फिर पीएम नरेंद्र मोदी का जादू चला और बीजेपी ने फिर केंद्र में वापसी की)

बधाई संदेशों के 5 करोड़ पोस्टकार्ड भेजे जाएंगे 

सभी कार्यकर्ता COVID काल में जो बच्चे अनाथ हुए हैं, उनका रजिस्ट्रेशन सम्बंधित कार्यकाल में कराएं, जिससे उन्हें राज्य सरकार और केंद्र सरकार की योजनाओं का लाभ मिल सके. देश के सभी बूथों से प्रधानमंत्री को गरीब कल्याण व सेवा कार्यों के लिए आभार के रूप में पांच करोड़ पोस्ट कार्ड भेज कर बधाई व अभिनंदन करने को भी कहा गया है.

क्लिक करें -  पीएम मोदी के जन्मदिन पर अमेठी में 500 पहलवान दिखाएंगे दंगल

25 सितंबर को दीनदयाल उपाध्याय की जयंती है और बीजेपी के मुताबिक पीएम मोदी अंत्योदय के उनके सपने को साकार कर रहे हैं. इसलिए उस दिन प्रत्येक बूथ पर गरीबों के लिए कार्यक्रम आयोजित किए जाएं. दो अक्टूबर को गांधी जयंती पर स्वच्छता के कार्यक्रम हों तथा खादी के उपयोग को बढ़ावा देने के कार्यक्रम हों.

गंगा नदी में 71 स्थानों पर होगी सफाई

पदाधिकारियों को गरीबों को मुफ्त अनाज देने व मुफ्त टीकाकरण के लिए हर मंडल में पीएम को धन्यवाद देते हुए होर्डिंग लगाने का निर्देश दिया गया है. इसके साथ ही पीएम मोदी के 20 वर्षों के शासनकाल में आए बदलावों को बताने के लिए सेमिनार व सम्मेलन कराने को कहा गया है. जानकारी के मुताबिक पीएम मोदी के 71 वें जन्मदिन पर राज्य की प्रमुख नदियों के 71 स्थानों पर सफाई अभियान चलाने तथा उत्तर प्रदेश में गंगा पर 71 स्थानों पर सफाई करने को कहा गया है. वहीं कोविड के कारण अनाथ हुए बच्चों का पंजीकरण कर उन्हें सरकारी लाभ पहुंचाने को कहा गया है.  

 

पीएम मोदी की आवाज़ पार्टी के कार्यकर्ताओं को ऊर्जा से भर देती है, उनकी हर रैली में उनके प्रति दीवानगी देखी जा सकती है.

पीएम मोदी को मिले उपहारों की होगी नीलामी

पीएम मोदी को मिले विभिन्न उपहारों की नीलामी एक वेबसाइट pmmemontos.gov.in के माध्यम से होती है. यह एक बार फिर 17 सितंबर से 7 अक्टूबर तक होगी. इसके लिए लोगों को बताया जाएगा. इससे मिली राशि नमामि गंगे कार्यक्रम में उपयोग में आती है. कार्यकर्ताओं से साफ कहा गया है कि इस अभियान में हिस्सा लेते समय कोविड नियमों का पालन करें. सभी सांसदों, विधायकों तथा अन्य जनप्रतिनिधियों को इसमें भाग लेने का निर्देश पार्टी की ओर से दिया गया है.  

पीएम नरेंद्र मोदी के जन्मदिन और सेवा सप्ताह कार्यक्रम को लेकर पार्टी के राष्ट्रीय महामंत्री कैलाश विजयवर्गीय, डी पुरंदेश्वरी, विनोद सोनकर और राष्ट्रीय किसान मोर्चा के अध्यक्ष राजकुमार चाहर को विशेष जिम्मेदारी दी गई है. इन नेताओं की जिम्मेदारी कार्यक्रमों की व्यवस्थित योजना बनाने, क्रियान्वयन और उसकी समीक्षा करनी है. बीजेपी महासचिव अरुण सिंह ने सोमवार को पार्टी पदाधिकारी, सभी प्रदेश अध्यक्षों, सभी प्रदेश प्रभारियों और संगठन मंत्रियों की बैठक में इस कार्यक्रम की जानकारी भी दी. अरुण सिंह ने बैठक में कहा कि इस कार्यक्रम के ज़रिए संदेश जाना चाहिए कि पीएम मोदी ग़रीबों के मसीहा हैं क्योंकि इस संकटकाल में राशन देने से लेकर COVID -19 वैक्सीन देने का काम पीएम मोदी की देन है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×