scorecardresearch
 

जब दो टुकड़ों में बंटा पाक! वॉर मेमोरियल पर 1971 की जंग के शहीदों को श्रद्धांजलि

जब दो टुकड़ों में बंटा पाक! वॉर मेमोरियल पर 1971 की जंग के शहीदों को श्रद्धांजलि

1971 में हुए भारत-पाकिस्तान युद्ध के 50 साल पूरे हो गए हैं. ये वही युद्ध था जिसके नतीजे में दुनिया के नक्शे पर बांग्लादेश नाम के नए राष्ट्र का उदय हुआ. इस संघर्ष में करारी हार झेलने के बाद पाकिस्तान के 93 हजार सैनिकों को भारत के सामने आत्मसमर्पण करना पड़ा था. पाकिस्तान के खिलाफ जंग में जीत और बांग्लादेश की आजादी के बाद से भारत 16 दिसंबर को विजय दिवस के तौर पर मनाता रहा है. आज नई दिल्ली स्थित राष्ट्रीय समर स्मारक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत, और तीनों सेनाओं के चीफ मौजूद रहेंगे.

Prime Minister Narendra Modi is set to visit the National War Memorial (NWM) in Delhi on Wednesday, where he will light up 'Swarnim Vijay Mashaal' on the 50th anniversary of the 1971 India-Pakistan war. Prime Minister Modi will be received by Defence Minister Rajnath Singh at the venue. The Prime Minister, Chief of Defence Staff and Tri-Service Chiefs will lay a wreath and pay homage to the fallen soldiers.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें