scorecardresearch
 

LAC पर China से क्यों है टकराव? Rajnath Singh ने संसद में बताया

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह चीन से तनाव पर लोकसभा में बयान दिया. लोकसभा में बोलते हुए रक्षामंत्री ने कहा कि दोनों देशों के बीच शांति बहाल रखने के लिए समझौते हैं. राजनाथ सिंह ने कहा कि 1988 के बाद से दोनों देशों के द्विपक्षीय संबंधों में विकास हुआ. भारत का मानना है कि द्विपक्षीय संबंध भी विकसित हो सकते हैं और सीमा का भी निपटारा किया जा सकता है. हालांकि इसका असर द्विपक्षीय संबंधों पर पड़ भी सकता है.राजनाथ सिंह ने कहा कि समझौते में कहा गया है कि जब तक सीमा का पूर्ण समाधान नहीं होता LAC का उल्लंघन नहीं किया जाएगा. 1990 से 2003 तक दोनों देशों में मिलीजुली सहमति बनाने की कोशिश की गई, लेकिन इसके बाद चीन इस दिशा में आगे नहीं बढ़ा.

On the second day of the 18-day Monsoon Session of Parliament, Defence Minister Rajnath Singh said that the recent violent conduct of Chinese troops is a violation of all past agreements. We have told China through diplomatic channels that the attempts to unilaterally alter the status quo were in violation of the bilateral agreements. Our troops have done counter deployments in the area to safeguard our borders. Watch the video for more information.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें