scorecardresearch
 

महिलाओं से छेड़छाड़ का आरोप, शराब के साथ तस्वीर, दागी रहा है Anand Giri का इतिहास

महिलाओं से छेड़छाड़ का आरोप, शराब के साथ तस्वीर, दागी रहा है Anand Giri का इतिहास

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की मौत के बाद उनके शिष्य आनंद गिरि का नाम अचानक सुर्खियों में आ गया. जिसकी वजह है महंत का वो सुसाइड नोट, जो पुलिस ने मौका-ए-वारदात से बरामद किया है. पुलिस के मुताबिक उस सुसाइड नोट में महंत नरेंद्र गिरि ने आनंद समेत अपने कई शिष्यों का जिक्र किया है. आनंद गिरि का नाम हमेशा विवादों से घिरा रहा. माना जा रहा है कि महंत नरेंद्र गिरि अपने शिष्य के क्रिया कलापों से बेहद दुखी थे. दरअसल, महंत और उनके शिष्य स्वामी आनंद गिरि के बीच का विवाद काफी चर्चाओं में रहा था. आनंद गिरि पर गंभीर आरोप लगे थे. जिसके बाद उन्हें निरंजनी अखाड़े से निष्कासित कर दिया गया था. आनंद गिरी संगम में लेटे हनुमान मंदिर के छोटे महंत हुआ करते थे. उन्हें महंत नरेंद्र गिरि का प्रिय शिष्य माना जाता था. आनंद गिरि को मंदिर से जुड़े कई अधिकार भी हासिल थे. लेकिन संत परंपरा का निर्वहन न करने की वजह से उन्हें इसी साल निष्काषित कर दिया गया था. ज्यादा जानकारी के लिए देखें वीडियो.

After the President of the Akhil Bharatiya Akhara Parishad, Mahant Narendra Giri was found dead at his Baghambari Math in Prayagraj, his disciple Anand Giri has been taken into custody. Mahant Narendra Giri's disciple Anand Giri has been mired in controversies before. Have a look at big controversies surrounding Anand Giri.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें