scorecardresearch
 

Babri Masjid Case: कोर्ट के फैसले के बाद आडवाणी के घर पहुंचे रविशंकर प्रसाद

Babri Masjid Case: कोर्ट के फैसले के बाद आडवाणी के घर पहुंचे रविशंकर प्रसाद

बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में अदालत का फैसला आ गया है. 6 दिसंबर 1992 को अयोध्या में जो हुआ उस पर सीबीआई की विशेष अदालत ने बुधवार को अपना फैसला सुनाया. अदालत ने सभी आरोपियों को बरी कर दिया है. विशेष अदालत ने फैसला सुनाते हुए पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी, बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री मुरली मनोहर जोशी, यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह, एमपी की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती, बीजेपी के सीनियर नेता विनय कटियार समेत कुल 32 आरोपियों को बरी कर दिया है. वहीं, कोर्ट के फैसले के बाद कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद, लाल कृष्ण आडवाणी के घर पहुंचे हैं. देखें

In the Babri Masjid demolition case, a special CBI court on Wednesday said the demolition was not pre-planned and ruled out the conspiracy theories in the December 1992 incident in which the Mughal era monument was razed to ground by a mob of kar sevaks. The CBI court has acquitted all the accused in the case, including the likes of LK Advani, MM Joshi and Uma Bharti. After the verdict of the court, Law Minister Ravi Shankar Prasad has reached Lal Krishna Advani's house. Watch video.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें