scorecardresearch
 

British संसद में भी भारत के किसान आंदोलन की गूंज, 36 MP समर्थन में सामने आए

British संसद में भी भारत के किसान आंदोलन की गूंज, 36 MP समर्थन में सामने आए

किसान आंदोलन की आग पर सिर्फ देश में ही नहीं, विदेश में भी राजनीतिक रोटियां सेंकी जा रही हैं. कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो तो भारत की सख्त चेतावनी के बावजूद भारत के लोकल मुद्दे पर कुछ ज्यादा ही वोकल हो रहे हैं. अब ब्रिटेन की संसद में भी भारत के किसान आंदोलन की गूंज सुनाई देने लगी है. ब्रिटेन के 36 सांसदों का एक दल, भारत के किसान आंदोलन के समर्थन में सामने आया है. इन सांसदों ने ब्रिटिश विदेश सचिव डॉमिनिक रैब को भारत के कृषि कानूनों के खिलाफ भारत पर दबाव बनाने के लिए कहा है. इन सांसदों ने ब्रिटिश विदेश सचिव को खत लिखकर कहा है कि वो पंजाब के सिख किसानों के समर्थन में भारत सरकार से बातचीत करें. इससे पहले कई ब्रिटिश सांसदों ने लंदन में भारतीय उच्चायोग को खत लिखकर भारत में नए कृषि कानूनों को किसानों के शोषण का जरिया बताया था. भारत के किसान आंदोलन को समर्थन देने वाले 36 ब्रिटिश सांसदों में ज्यादातर लेबर पार्टी के हैं, जिनका नेतृत्व कर रहे हैं लेबर पार्टी के तनमनजीत देसी.

Not only in India, but the sympathizers of farmers' protest are in the British parliament also. Even Canadian prime minister Justin Trudeau spoke openly about the internal matter of India and now 36 British MPs have come forward in support of the ongoing Kisan Andolan.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×