scorecardresearch
 

त्रिपुरा: डीएम शैलेश यादव सस्पेंड, नाइट कर्फ्यू के दौरान शादी में काटा था बवाल

जिलाधिकारी शैलेश यादव के दो वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुए थे. ये वीडियो डीएम द्वारा मैरिज हॉल पर की गई कार्रवाई के दौरान के थे. डीएम कोरोना महामारी के इस समय में आयोजित शादी समारोह में शामिल लोगों द्वारा कोविड गाइडलाइन का पालन नहीं किए जाने पर भड़क गए थे.

डीएम शैलेश यादव को  सस्पेंड कर दिया गया है. (फोटो-सोशल मीडिया) डीएम शैलेश यादव को सस्पेंड कर दिया गया है. (फोटो-सोशल मीडिया)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था वीडियो
  • डीएम शैलेश यादव सस्पेंड
  • नाइट कर्फ्यू के दौरान शादी में काटा था बवाल

त्रिपुरा के पश्चिमी त्रिपुरा जिले के जिलाधिकारी शैलेश कुमार यादव को सस्पेंड कर दिया गया है. उन पर शादी समारोह में  बवाल करने के आरोप लगे थे. सोशल मीडिया पर इस घटना का वीडियो भी वायरल हुआ था. वीडियो में वह शादी में शामिल मेहमानों से बदसलूकी करते नजर आए थे.

इलाके में गाइडलाइन का पालन नहीं करने पर उन्होंने दो मैरिज हॉल को सील भी करने को कहा था. साथ ही डीएम ने पुलिस को महामारी रोग अधिनियम, आपदा प्रबंधन अधिनियम और रात के कर्फ्यू का उल्लंघन करने के लिए दूल्हा और दुल्हन समेत शादी में शामिल सभी लोगों के खिलाफ मामला दर्ज करने का निर्देश दिया था.

जिलाधिकारी शैलेश यादव के दो वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुए थे. ये वीडियो डीएम द्वारा मैरिज हॉल पर की गई कार्रवाई के दौरान के थे. डीएम कोरोना महामारी के इस समय में आयोजित शादी समारोह में शामिल लोगों द्वारा कोविड गाइडलाइन का पालन नहीं किए जाने पर भड़क गए थे.

जिलाधिकारी ने पहले वहां से बैंड वालों को भगाया, इसके बाद शादी में शामिल लोगों को वहां से दौड़ा दिया. इतना ही नहीं डीएम ने दुल्हन को स्टेज से उतरने के लिए भी कहा, वहीं बाकी अधिकारी शादी में आए मेहमानों को मैरिज हॉल से बाहर निकालने में लगे रहे.

डॉ. शैलेश कुमार यादव साल 2003 बैच के IAS अधिकारी हैं. उन्‍होंने दूसरे प्रयास में यूपीएससी परीक्षा पास की थी. उनका जन्म और पालन-पोषण उत्तर प्रदेश के अंबेडकर नगर में हुआ. उनका जन्म 23 जून 1979 को हुआ था और उन्‍हें मण‍िपुर कैडर मिला था.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें