scorecardresearch
 

त्रिपुरा मामला: टीएमसी सांसदों ने "वी शैल ओवर कम" गाते हुए गृह मंत्रालय के बाहर दिया धरना

शायनी घोष की त्रिपुरा में गिरफ्तारी के बाद तृणमूल कांग्रेस बीजेपी पर हमलावर हो गई है. सोमवार को टीएमसी के सांसद दिल्ली पहुंचे और मामले का विरोध दर्ज कराया. सांसदों ने गृहमंत्री से मिलने की कोशिश की, लेकिन मुलाकात नहीं हो सकी.

X
फोटो: आजतक फोटो: आजतक
स्टोरी हाइलाइट्स
  • त्रिपुरा मामले को लेकर बीजेपी पर साधा निशाना
  • ममता बनर्जी भी दिल्ली पहुंचकर पीएम से मिल सकती हैं

त्रिपुरा में टीएमसी नेता शायनी घोष (Tmc youth president Sayani Ghosh) की गिरफ्तारी के विरोध में अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस के कई नेता दिल्ली पहुंचे. टीएमसी नेताओं ने गृह मंत्रालय के बाहर धरना दिया. एक दर्जन से अधिक सांसद रविवार को दिल्ली आए. टीएमसी की युवा शाखा की प्रमुख सायोनी घोष को त्रिपुरा पुलिस ने हत्या के प्रयास के आरोप में गिरफ्तार किया था. पार्टी के नेता त्रिपुरा में कथित हिंसा पर रिपोर्ट देने के लिए गृह मंत्री अमित शाह से मिलने का समय लेना चाहते थे, लेकिन उन्हें समय नहीं दिया गया.

टीएमसी सांसद बोले— गृहमंत्री ने नहीं की मुलाकात

इंडिया टुडे से बात करते हुए टीएमसी के लोकसभा सांसद कल्याण बनर्जी ने कहा, हमने गृह मंत्री के कार्यालय पहुंचकर बार-बार मुलाकात करने की कोशिश की, लेकिन हमें समय नहीं दिया गया, इसलिए हमने गृह मंत्रालय के बाहर आकर विरोध करने का फैसला किया. त्रिपुरा मामले को लेकर गृहमंत्री अमित शाह के कार्यालय के अलावा घर के बाहर भी धरना—प्रदर्शन किया जा रहा है.

गीत गाते हुए त्रिपुरा मामले को लेकर बीजेपी के खिलाफ नारे लगाने तक टीएमसी सांसदों ने राष्ट्रीय राजधानी में अपना विरोध दर्ज कराया. इसी बीच बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का दिल्ली आने का कार्यक्रम है. 22 से 25 नवंबर तक अपने तीन दिवसीय दौरे के दौरान ममता बनर्जी प्रधानमंत्री से भी मिल सकती हैं.

तृणमूल कांग्रेस की यूथ प्रेसिडेंट शायनी घोष (Tmc youth president Sayani Ghosh) की गिरफ्तारी के बाद से टीएमसी हमलावर हो गई है. टीएमसी के साथ ही बीजेपी पर अन्य पार्टियां भी निशाना साध रही हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें