scorecardresearch
 

5 जुलाई को इंदौर से रायपुर जाने वाली इंडिगो फ्लाइट की केबिन से निकला धुंआ, DGCA ने दी जानकारी 

जबलपुर जाने वाली स्पाइसजेट की एक फ्लाइट 2 जुलाई को यात्रियों द्वारा विमान में धुएं का दावा करने के बाद दिल्ली हवाई अड्डे पर लौटी थी. स्पाइसजेट के प्रवक्ता के अनुसार, विमान के अंदर धुएं का पता तब चला जब विमान 5000 फीट की ऊंचाई से गुजर रहा था. 

X
इंडिगो फ्लाइट की फाइल तस्वीर (ANI)
इंडिगो फ्लाइट की फाइल तस्वीर (ANI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 2 जुलाई को स्पाइसजेट के विमान में निकला था धुआं
  • 5 जुलाई को विस्तारा फ्लाइट के इंजन में आई थी खराबी

इंदौर से रायपुर जाने वाली इंडिगो की एक फ्लाइट में केबिन से धुआं निकलने की घटना सामने आई है. नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (DGCA) के अधिकारियों ने बताया कि केबिन क्रू ने केबिन से धुआं निकलने की सूचना दी. 

DGCA ने बताया, "रायपुर-इंदौर इंडिगो उड़ान (A320Neo फ्लाइट) के केबिन क्रू ने 5 जुलाई को लैंडिंग के बाद टैक्सी इन के दौरान उसके केबिन से धुआं निकलने की सूचना दी थी." इसके अलावा बैंकॉक से दिल्ली आ रही विस्तारा की एक फ्लाइट के इंजन में भी लैंडिंग के समय खराबी आ गई थी. उसे भी 5 जुलाई को दिल्ली एयरपोर्ट पर टो ट्रक द्वारा लैंड कराया गया था. हालांकि सभी यात्री सुरक्षित थे. 

2 जुलाई को स्पाइसजेट के विमान में धुआं  

इससे पहले जबलपुर जाने वाली स्पाइसजेट की एक फ्लाइट 2 जुलाई को यात्रियों द्वारा विमान में धुएं का दावा करने के बाद दिल्ली हवाई अड्डे पर लौटी थी. स्पाइसजेट के प्रवक्ता के अनुसार, विमान के अंदर धुएं का पता तब चला जब विमान 5000 फीट की ऊंचाई से गुजर रहा था. 

स्पाइसजेट ने दिया नोटिस का जवाब

स्पाइसजेट को कारण बताओ नोटिस मिलने के बाद एयरलाइन के चेयरमैन और एमडी अजय सिंह ने आजतक को बताया कि स्पाइसजेट यात्रियों के लिए 100 फीसदी सुरक्षित है.
 

DGCA ने देरी पर लिया था संज्ञान 

नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (DGCA) ने देश भर में कई उड़ानों में देरी के बाद इंडिगो के संचालन का संज्ञान लिया था. सूत्रों के अनुसार, इसके लिए चालक दल के सदस्यों की अनुपलब्धता को बाधा का प्राथमिक कारण बताया गया था. DGCA के अधिकारियों ने न्यूज एजेंसी को बताया, "नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (DGCA) ने इंडिगो के संचालन का कड़ा संज्ञान लिया है और देश भर में भारी उड़ान देरी के पीछे स्पष्टीकरण मांगा है." नागरिक उड्डयन मंत्रालय (MoCA) के आंकड़ों के अनुसार, इंडिगो की केवल 45 प्रतिशत उड़ानें शनिवार (2 जुलाई) को निर्धारित प्रस्थान समय के 15 मिनट के भीतर समय पर प्रदर्शन करने में सक्षम थीं. 
 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें