scorecardresearch
 

केंद्र सरकार के पास Air India का कितना है बकाया? RTI से सामने आई जानकारी

हाल ही में आरटीआई के जरिए सामने आई एक अहम जानकारी में पता चला है कि केंद्र सरकार के पास एयर इंडिया का कुल 33.69 करोड़ रुपये बकाया है. यह राशि इस साल 31 जुलाई तक की है.

X
एयर इंडिया एयर इंडिया
स्टोरी हाइलाइट्स
  • आरटीआई के जरिए सामने आई महत्वपूर्ण जानकारी
  • केंद्र सरकार को एयर इंडिया का करना है 33.69 करोड़ रुपये

हाल ही में आरटीआई के जरिए सामने आई एक अहम जानकारी में पता चला है कि केंद्र सरकार के पास एयर इंडिया का कुल 33.69 करोड़ रुपये बकाया है. यह राशि इस साल 31 जुलाई तक की है. मालूम हो कि पिछले दिनों टाटा संस ने एयर इंडिया के लिए सबसे ज्यादा बोली लगाई थी, जिसके बाद वह एयरलाइंस कंपनी की नई मालिक बन गई थी.

आरटीआई के अनुसार, रक्षा मंत्रालय के ऊपर करीब 6.1 करोड़ रुपये एयर इंडिया कंपनी के बकाया हैं. यह राष्ट्रपति की फ्लाइट के लिए बकाया राशि है. जबकि गृह मंत्रालय की ओर से 7.1 करोड़ रुपये विभिन्न फ्लाइट्स के लिए बकाया हैं. वहीं, विदेश मंत्रालय के भी एयर इंडिया के तकरीबन 20 करोड़ रुपये बचे हुए हैं. इस तरह से कुल बकाया हिसाब 33.6 करोड़ रुपये का है.

इसके अलावा, सरकार से जुड़े सरकारी विभागों, एजेंसियां, लोकसभा सचिवायलय, राज्यसभा सचिवालय आदि को भी एयर इंडिया को भुगतान करना है. यह कुल राशि 268.8 करोड़ रुपये है.

लोकेश बत्रा नामक शख्स ने दायर की थी RTI

बता दें कि यह आरटीआई लोकेश बत्रा ने इस साल दो अप्रैल को दाखिल की थी, जिसके बाद उसे एयर इंडिया की ओर से 14 अक्टूबर को जवाब दिया गया. इसमें बताया गया है कि केंद्र सरकार के किस मंत्रालय से कितनी राशि बकाया है. वीवीआईपी फ्लाइट्स के लिए एयर इंडिया को केंद्र द्वारा 31 जुलाई तक 33.69 करोड़ रुपये भुगतान किए जाने हैं.

बता दें कि पिछले दिनों जब सरकार की ओर से एयर इंडिया की बोली पर जानकारी दी गई थी तब बताया गया था कि टाटा संस ने 18 हजार करोड़ रुपये की बोली लगाई. इसके अलावा, अजय सिंह के कंसोर्टियम ने 15 हजार करोड़ रुपये की बोली लगाई थी. इस लिहाज से टाटा संस और अजय सिंह के कंसोर्टियम के बीच राशि का अंतर 2900 करोड़ से भी अधिक रहा.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें