scorecardresearch
 

'नाथूराम गोडसे जी को नमन' कहने वाले धर्मगुरु घिरे, गांधी पर टिप्पणी के बाद FIR भी दर्ज

रायपुर की धर्म संसद में महात्मा गांधी पर अभद्र टिप्पणी करने वाले धर्मगुरु कालीचरण अब निशाने पर आ गए हैं. उनके खिलाफ केस भी दर्ज हो गया है.

X
धर्मगुरु कालीचरण
धर्मगुरु कालीचरण
स्टोरी हाइलाइट्स
  • गांधी पर टिप्पणी के बाद घिरे धर्मगुरु कालीचरण
  • कालीचरण पर नवाब मलिक ने तंज कसा

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में आयोजित धर्म संसद पर विवाद हो गया है. यहां मौजूद धर्मगुरु कालीचरण ने महात्मा गांधी के लिए अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया, जिसके लिए उनको घेरा जा रहा है. सोशल मीडिया पर कालीचरण का वीडियो वायरल होने के बाद इसपर राजनीति भी शुरू हो गई है. महाराष्ट्र के मंत्री और एनसीपी नेता नवाब मलिक ने भी कालीचरण पर तंज कसा है. उन्होंने लिखा कि बापू के कातिल अबतक जिंदा हैं, जिसके लिए वे शर्मिंदा हैं.

कांग्रेस समेत दूसरे दलों के नेता भी कालीचरण की तीखी आलोचना कर रहे हैं. बता दें कि रविवार को धर्मगुरु कालीचरण ने महात्मा गांधी की हत्या के लिए नाथूराम गोडसे की सराहना की और कहा कि लोगों को धर्म की रक्षा के लिए सरकार के प्रमुख के रूप में एक कट्टर हिंदू नेता का चुनाव करना चाहिए.

रायपुर की धर्म संसद से ही जुड़ा एक वीडियो शेयर करते हुए नवाब मलिक ने लिखा, 'सत्य, अहिंसा को झूठ और हिंसक कभी हरा नहीं सकते, बापू हम शर्मिंदा हैं तेरे कातिल जिंदा हैं.'

जो वीडियो नवाब मलिक ने शेयर किया वह महंत राम सुंदर का बताया जा रहा है. महंत इस वीडियो में कालीचरण द्वारा इस्तेमाल किए गए शब्दों की निंदा करते हुए खुद को धर्म संसद से अलग कर लेते हैं, जिसके लिए उनकी तारीफ हो रही है.

इससे पहले कांग्रेस नेता संजय निरूपम ने तल्ख शब्दों का इस्तेमाल करते हुए अपने ट्विटर अकाउंट से लिखा था, 'यह भगवाधारी फ्रॉड राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को सरेआम गालियां दे रहा है, इसे तत्काल अंदर करना चाहिए. गांधी जी से किसी को वैचारिक मतभेद हो सकता है, पर उनका अपमान करने का हक किसी को नहीं है. यह अक्षम्य अपराध है.'

आम आदमी पार्टी से राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने भी अपनी कड़ी प्रतिक्रिया दर्ज कराई थी. AAP ने ट्विटर पर लिखा है, ये कौन है जो हमारे राष्ट्रपिता को गाली दे रहा है? मोदी जी कुछ करेंगे या इनको भी सिर्फ़ “दिल से माफ़ नही कर पाएंगे.”

कालीचरण के खिलाफ केस दर्ज

जानकारी के मुताबिक, बापू के लिए अपशब्दों का इस्तेमाल करने की वजह से कालीचरण के खिलाफ मामला दर्ज हो गया है. छत्तीसगढ़ में ही टिकरापारा क्षेत्र में अपराध क्रमांक 578/2021 धारा 505(2), 294 IPC के तहत मामला दर्ज किया जा चुका है. संत कालीचरण के खिलाफ रायपुर के पूर्व महापौर और वर्तमान सभापति प्रमोद दुबे ने शिकायत दर्ज कराई थी.

क्या है मामला

रायपुर के रावण भाटा मैदान में आयोजित दो दिवसीय कार्यक्रम के समापन दिवस पर बोलते हुए, कालीचरण ने कहा, "इस्लाम का लक्ष्य राजनीति के माध्यम से राष्ट्र पर कब्जा करना है. हमारी आंखों के सामने उन्होंने 1947 में कब्जा कर लिया था... उन्होंने पहले ईरान, इराक और अफगानिस्तान पर कब्जा कर लिया था. उन्होंने राजनीति के माध्यम से बांग्लादेश और पाकिस्तान पर कब्जा कर लिया था... मैं नाथूराम गोडसे को सलाम करता हूं कि उन्होंने मोहनदास करमचंद गांधी की हत्या की."

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें