scorecardresearch
 

इस डॉक्टर के निधन पर भावुक हुईं प्रियंका गांधी वाड्रा, कहा- राहुल, मेरी और मेरे बच्चों की कराई थी डिलीवरी

सर गंगाराम अस्पताल की सीनियर डॉक्टर और स्त्री रोग विशेषज्ञ एसके भंडारी के निधन पर प्रियंका गांधी ने शोक व्यक्त किया. प्रियंका गांधी ने एसके भंडारी को याद करते हुए बताया कि उन्होंने ही मेरे भाई, मेरी, मेरे बेटे और मेरी बेटी की डिलीवरी कराई थी.  

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा
स्टोरी हाइलाइट्स
  • गंगाराम अस्पताल में सीनियर डॉक्टर भंडारी का निधन
  • एसके भंडारी के निधन पर भावुक हुईं प्रियंका गांधी वाड्रा
  • प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर याद किए पुराने दिन

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने गुरुवार को सर गंगाराम अस्पताल की सीनियर डॉक्टर और स्त्री रोग विशेषज्ञ एसके भंडारी के निधन पर शोक व्यक्त किया. प्रियंका गांधी ने एसके भंडारी को याद करते हुए बताया कि उन्होंने ही मेरे भाई, मेरी, मेरे बेटे और मेरी बेटी की डिलीवरी कराई थी.  

आपको बता दें कि एसके भंडारी ने गंगाराम अस्पताल में वर्षों तक सेवा दी थी. हाल ही में वह कोरोना पॉजिटिव पाई गईं थीं. उन्होंने वैक्सीन की दोनों डोज लगवाई थी. गुरुवार को इलाज के दौरान उनका निधन हो गया. उनके निधन पर प्रियंका गांधी ने शोक व्यक्त करते हुए ट्वीट किया. उन्होंने लिखा कि डॉ. एसके भंडारी, सर गंगाराम अस्पताल की पूर्व डॉक्टर, जिन्होंने मेरे भाई, मेरी, मेरे बेटे और मेरी बेटी की डिलीवरी कराई, उनका आज निधन हो गया.

कांग्रेस महासचिव ने उन्हें याद करते हुए आगे लिखा कि यहां तक ​​कि सत्तर की उम्र में भी वह सुबह-सुबह खुद अस्पताल पहुंच जाती थीं. अंत तक उन्होंने अपने हर महान गुण को बरकरार रखा. एक महिला जिसका मैं हमेशा सम्मान करती और तारीफ करती थी. एक दोस्त जिसे मैं हमेशा याद रखूंगी.

क्लिक करें- Love you Zindagi गाने पर झूमने वाली लड़की से रूठ गई जिंदगी, अस्पताल में मौत

आपको बता दें कि एसके भंडारी वही डॉक्टर थीं, जिन्होंने कांग्रेस नेता राहुल गांधी, उनकी बहन प्रियंका गांधी वाड्रा और उनके दो बच्चों की डिलीवरी करवाई थी. भंडारी 86 वर्ष की थीं. 

न्यूज एजेंसी के मुताबिक, सर गंगा राम अस्पताल के चेयरमैन ने कहा कि डॉ भंडारी को कुछ ह्रदय से संबंधित दिक्कतों के बाद दो सप्ताह पहले अस्पताल में भर्ती कराया गया था. लेकिन वह वहां कोविड ​​पॉजिटिव पाई गईं. उनके पति, एक सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी हैं. वह भी कोविड ​​पॉजिटिव हैं और अभी आईसीयू में भर्ती हैं. 

अस्पताल के चेयरमैन ने कहा कि भंडारी ने 58 साल तक अस्पताल की सेवा की. उन्होंने ही अस्पताल के स्त्री रोग और प्रसूति विभाग की स्थापना की थी. उनका गुरुवार को अस्पताल में निधन हो गया. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें