scorecardresearch
 

PM Modi on Budget: 'बजट में अन्नदाता को ऊर्जादाता बनाने पर जोर', पढ़ें PM मोदी के संबोधन की बड़ी बातें

PM Modi on Budget: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 'बजट और आत्मनिर्भर भारत' विषय पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कार्यकर्ताओं को संबोधित किया. इसमें पीएम ने बजट पर विस्तार से बात की.

X
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मोदी बोले - Digital Currency से डिजिटल इकॉनॉमी को बहुत बल मिलेगा
  • मोदी बोले - हमारी सरकार ने बीते सालों में MSP पर रिकॉर्ड खरीद की है

PM Modi on Budget: पीएम मोदी ने आज 'बजट और आत्मनिर्भर भारत' विषय पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कार्यकर्ताओं को संबोधित किया. इसमें उन्होंने बजट पर विस्तार से बातचीत करते हुए इसके फायदे गिनाए. पीएम ने कहा कि बजट 2022 से देश को आधुनिकता की तरफ ले जाया जाएगा.

पीएम ने कहा कि भारत का आत्मनिर्भर बनने के साथ-साथ, इसकी नींव पर ही आधुनिक भारत का निर्माण करना भी जरूरी है.

PM Modi on Budget: पीएम मोदी के संबोधन की बड़ी बातें

अपने संबोधन में पीएम मोदी ने कहा कि देश आजादी के 75वें वर्ष में है. इस वक्त देश 100 साल में आई सबसे बड़ी महामारी से लड़ रहा है. कोरोना दुनिया के लिए अनेक चुनौतियां लेकर आया. दुनिया ऐसे चौहारे पर खड़ी है, जहां टर्निंग प्वाइंट निश्चित है. अब जो दुनिया होगी वह पहले जैसी बिल्कुल नहीं होगी. विश्व युद्ध के बाद जैसे दुनिया बदली, वैसे ही दुनिया में बहुत सारे बदलाव की संभावना है. इसके शुरुआती संकेत दिखे भी हैं.

मोदी बोले कि बजट की सभी जगह तारीफ हुई है. इस बजट से देश को आधुनिकता की दिशा में ले जाने का काम हुआ है. बीते सात वर्षों में जो फैसले लिए गए, जो नीतियां बनीं, पहली की नीतियों की गलतियों को सुधारा गया, इस वजह से भारत की अर्थव्यवस्था का निरंतर विस्तार हो रहा है. सात साल पहले जीडीपी एक लाख 10 हजार करोड़, आज भारत की जीडीपी 2 लाख 30 हजार करोड़ के आसपास है. वर्ष 2013-14 में भारत का एक्सपोर्ट 2 लाख 85 हजार करोड़ रुपये होता था. आज भारत का एक्सपोर्ट 4 लाख 70 हजार करोड़ रुपये का आसपास पहुंचा है.

पीएम ने कहा कि बजट का फोकस गरीब, मिडिल क्लास को बुनियादी सुविधाएं देने की तरफ है. गरीब को बुनियादी चीजें मिलती हैं तो वह अपनी ऊर्जा देश के विकास में लगाता है. मोदी बोले कि जल ही जीवन है, सुनने में अच्छा लगता है. लेकिन जल की कमी महिलाओं, किसानों के लिए बड़ी दिक्कत है. हमने 9 करोड़ ग्रामीण घरों में नल से जल की सुविधा की. बजट में घोषणा हुई है कि इस साल करीब 4 करोड़ ग्रामीण घरों को पाइप से पानी का कनेक्शन देंगे.

किसानों पर क्या बोले मोदी

मोदी ने कहा कि अन्नदाता को ऊर्जादाता बनाने पर सरकार का जोर है इसलिए खेतो में सोलर पैनल लगाने का काम किया जा रहा है. सोलर पंप से किसानों को मदद मिलेगी. केमिकल फ्री खेती पर सरकार का जोर है. वह बोले कि MSP पर दुनियाभर की बातें फैलाई गईं. लेकिन हमने पिछले सीजन में MSP पर रिकॉर्ड खरीददारी की. धान की ही बात करें तो MSP के रूप में किसानों को डेढ़ लाख करोड़ से अधिक मिलने का अनुमान है. बजट में प्रावधान है कि दो लाख करोड़ से ज्यादा का MSP किसानों के बैंक खाते में सीधा ट्रांसफर किया जाएगा.

पीएम ने कहा कि किसानों पर बोझ कम होना चाहिए. किसानी को कैमिकल फ्री और तकनीक फ्रेंडली बनाने के प्रावधान बजट में हुए हैं. पहले किसान रेल चलाई गई. अब किसान ड्रोन का ऐलान किया गया है. इसमें किसानों को खेत में ही ड्रोन और उससे संबंधित दूसरी मशीनरी उपलब्ध कराई जाएगी. इससे किसान को मदद मिलेगी. उत्पादन का रियलटाइम डेटा भी मिलेगा.

मोदी ने बताया कि इस साल के बजट में पीएम किसान सम्मान नीधि के तहत 68 हजार करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है. ये राशि पिछले साल की तुलना में ज्यादा है. इसका लाभ देश के करीब 11 करोड़ किसानों को होगा.

पीएम ने किया Digital Currency का जिक्र

मोदी बोले कि स्टार्टअप, डिजिटल करंसी पर लाए गए प्रावधान युवाओं को फायदा पहुंचाएंगे. आज के अखबारों में Central Bank Digital Currency की भी काफी चर्चा है. इससे डिजिटल इकोनॉमी को बहुत बल मिलेगा. ये डिजिटल रुपया अभी जो हमारी फिजिकल करेंसी है उसका ही डिजिटल स्वरूप होगा और इसे RBI द्वारा control किया जाएगा. इसको फिजिकल करेंसी से एक्सचेंज किया जा सकेगा. पहली डिजिटल यूनिवर्सिटी बनेगी, जिसमें क्वालिटी एजुकेशन मिलेगी.

वह बोले कि आज सस्ता और तेज इंटरनेट भारत की पहचान बना है. बहुत जल्द सभी गांव तक ऑप्टिकल फाइबर कनेक्टिविटी पूरी होगी. 5G सर्विस भारत में ease of living और ease of doing business को एक अलग ही आयाम देने वाली है.

पीएम ने कहा कि अब पोस्ट ऑफिस के खातों में भी बैंकों की तरह ही मोबाइल बैंकिंग, इंटरनेट बैंकिंग, एटीएम और ऑनलाइन फंड ट्रांस्फर की सुविधा मिल पाएगी. अभी देश में डेढ़ लाख से अधिक पोस्ट ऑफिस हैं, जिसमें से अधिकतर गांवों में हैं.

गरीबों को सिर्फ वोटबैंक समझा गया - मोदी

गरीबों की ताकत को किसी ने नहीं समझा, राजनीति में वोटबैंक की तरह उनका इस्तेमाल हुआ. जनधन खाता, छत (घर) मिलने से उनको हौसला आया है. जो घर हमारी सरकार बनाकर दे रही है उससे वह गरीब लखपति हो जाता है. हमने करीब 3 करोड़ लोगों को पक्का घर देकर लखपति बनाया है. ज्यादातर घरों की मालकिन महिलाएं हैं, हमने सामाजिक न्याय को अपना दायित्व समझा है.

अपने भाषण की शुरुआत में पीएम मोदी बोले कि निर्मला सीतारमण ने बहुत ही अच्छे ढंग से, कम समय में बजट के पहलुओं को हमारे सामने रखा. पीएम मोदी ने कहा कि बजट में काफी विषय होते हैं, जिन्हें किसी स्पीच में समेटा नहीं जा सकता. लेकिन इसके पीछे की सोच लोगों को बताना मेरा कर्तव्य है.

मोदी ने कहा कि राष्ट्ररक्षा से जुड़े एक और बड़े प्रोजेक्ट पर्वतमाला की बजट में घोषणा हुई है. इससे पहाड़ी क्षेत्रों में जाने वाले टूरिस्ट्स के साथ-साथ सेना को भी मदद मिलेगी. हिमाचल, उत्तराखंड, जम्मू कश्मीर, लेह-लद्दाख, नॉर्थ ईस्ट के राज्यों को इसका फायदा मिलेगा. ग्रामीण सड़क योजना का बजट भी अब 36 फीसदी बढ़ाया गया है.

पीएम बोले कि हमें सीमावर्ती (आखिरी गांवों) गांवों के लोगों की शक्ति को पहचाना होगा. उनकी देशभक्ति को देखना होगा. वहां से पलायन को रोकने के लिए काम किया जाएगा. वहां बिजली, पानी की सुविधा के लिए बजट में प्रावधान (वाइब्रेंट विलेज प्रोग्राम) किया गया है. इनको टूरिस्ट पाइंट बना सकते हैं.

जेपी नड्डा बोले - देश आगे बढ़ने को अग्रसर है

कार्यक्रम की शुरुआत में बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने बीजेपी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया. नड्डा ने कहा कि कोरोना काल में भी देश आगे बढ़ने को अग्रसर है, जिसे पीएम मोदी ने गति दी है. नड्डा बोले कि आज 1800 सेंटर्स से बीजेपी कार्यकर्ता पीएम मोदी को सुनेंगे.

बता दें कि भाजपा मीडिया विभाग के प्रभारी और राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी ने बताया था कि पार्टी शासित राज्यों के मुख्यमंत्री, राज्य इकाइयों के अध्यक्ष, पदाधिकारी और नेता अपने-अपने प्रदेश मुख्यालयों में प्रधानमंत्री का संबोधन सुनेंगे.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को बजट आने के बाद दोपहर में इसपर प्रतिक्रिया दी थी. इसमें उन्होंने बजट को आम जन के अनुकूल और प्रगतिशील बताया था, यह भी कहा था कि बजट में ऐसे प्रावधान हैं जिससे किसानी करने वालों को फायदा होगा. पीएम ने कहा था कि यह बजट, अर्थव्यवस्था को मजबूती देने के साथ ही सामान्य जन के लिए अनेक नए अवसर बनाएगा.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें