scorecardresearch
 

PM मोदी के संबोधन से पहले राहुल गांधी का सवाल- चीन को कब बाहर फेकेंगे?

मंगलवार की शाम 6 बजे प्रधानमंत्री देशवासियों से सीधे बात करेंगे. इस पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी क्या बोलेंगे, इस तरह की चीजों की भविष्यवाणी करने की क्षमता नहीं है.

X
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (फाइल फोटो- @INCIndia) कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (फाइल फोटो- @INCIndia)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • आज देश को संबोधित करेंगे PM मोदी
  • राहुल गांधी बोले- मैं चीन पर सुनना चाहूंगा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बार फिर राष्ट्र के नाम संदेश देने जा रहे हैं. मंगलवार की शाम 6 बजे प्रधानमंत्री देशवासियों से सीधे बात करेंगे. इस पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी क्या बोलेंगे, इस तरह की चीजों की भविष्यवाणी करने की क्षमता नहीं है. मैं पीएम मोदी से सुनना चाहूंगा कि वह चीनी सैनिकों के बारे में क्या बोलेंगे.

राहुल गांधी ने ट्वीट किया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने 6 बजे के संबोधन में आप देश को वो तारीख जरूर बताएं, जब चीन को हमारे क्षेत्र से आप बाहर फेंकेंगे. 

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि मुझे नहीं लगता कि दुनिया में ऐसा कोई देश है, जो अपनी जमीन पर घुसपैठ पर चुप रहेगा. मैं चाहूंगा कि पीएम इस पर बताएं. मैं आपको गारंटी देता हूं कि पीएम के पास आपको बताने के लिए कुछ नहीं है. 
मुझे यकीन है कि वह चीन शब्द का इस्तेमाल नहीं करेंगे. हम उनकी पीसी देखेंगे.

नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) पर राहुल गांधी ने कहा कि हमारी स्थिति बहुत स्पष्ट है. हमारा विचार लोगों को एकजुट करना है. भाजपा को इस बात पर बोलना चाहिए कि चीनी हमारी जमीन में क्यों बैठे हैं. उन्होंने हमारी जमीन के 12 हजार स्क्वायर किलोमीटर इलाके में अतिक्रमण किया है और हमारे पीएम झूठ बोल रहे हैं कि किसी ने कोई जमीन नहीं ली.

देखें: आजतक LIVE TV

राहुल गांधी ने कहा कि हर जगह पीएम नरेंद्र मोदी ने भारत के बुनियादी ढांचे को कमजोर किया है. यह बहुत महत्वपूर्ण है और हर भारतीय को यह समझना चाहिए. राहुल ने कहा कि केंद्र सरकार ने अर्थव्यवस्था को फिर से खड़ा करने के लिए कोई कोशिश नहीं की. बिना तैयारी लॉकडाउन लगाने की वजह से लोगों को कई तरह की समस्याएं हुई.

राहुल गांधी ने कहा कि केरल के लोगों ने कोरोना के खिलाफ अच्छी लड़ाई लड़ी है. वायनाड की स्थिति काफी बेहतर है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन को आरोप-प्रत्यारोप की राजनीति नहीं करनी चाहिए. मैंने पहले ही कहा था कि कोरोना के कारण हमें बहुत समस्या होने वाली है. अब एक-दूसरे पर आरोप लगाने से कोई फायदा नहीं है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें