scorecardresearch
 

लोंगेवाला चौकी पर जवानों से बोले पीएम मोदी- आप हैं तो देश है, देश के त्यौहार हैं

जैसलमेर में भारत-पाकिस्तान की सीमा मिलती है. यहां बॉर्डर पर बीएसएफ की तैनाती है. सुप्रसिद्ध तनोट माता का मंदिर भी यहीं पर है. प्रधानमंत्री जैसलमेर के लोंगेवाला बॉर्डर पर बीएसएफ जवानों के साथ दीपावली मना रहे हैं. लोंगेवाला मूल रूप से बीएसएफ का एक पोस्ट है. 

X
PM मोदी ने 2019 की दिवाली राजौरी में जवानों के साथ मनाई थी (फोटो-ट्विटर) PM मोदी ने 2019 की दिवाली राजौरी में जवानों के साथ मनाई थी (फोटो-ट्विटर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • जैसलमेर पहुंचे पीएम नरेंद्र मोदी
  • बॉर्डर पर जवानों के साथ मना रहे हैं दिवाली
  • CDS-आर्मी चीफ भी हैं साथ

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हर साल की तरह इस बार भी बॉर्डर पर तैनात जवानों के साथ दिवाली मना रहे हैं. जैसलमेर में पीएम मोदी ने कहा कि देश की सरहद पर हो, आसमान पर हो या फिर समंदर में राष्ट्र रक्षा में जुटे हुए देश की बेटियां और बेटे हर सुरक्षा बल, हर किसी को दीपावली के इस पावन पर्व पर नमन करता हूं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जवानों को संबोधित करते हुए कहा कि आप हैं तो देश है. देश के ये त्यौहार हैं. पीएम ने कहा कि मैं आपके बीच प्रत्येक भारतवासी की शुभकामनाएं लेकर आया हूं. देशवासियों का प्यार लेकर आया हूं. हर वरिष्ठ जन का आशीष लेकर आया हूं. 

बता दें कि जैसलमेर में भारत-पाकिस्तान की सीमा मिलती है. यहां बॉर्डर पर बीएसएफ की तैनाती है. सुप्रसिद्ध तनोट माता का मंदिर भी यहीं पर है. प्रधानमंत्री जैसलमेर के लोंगेवाला बॉर्डर पर बीएसएफ जवानों के साथ दीपावली मना रहे हैं. लोंगेवाला मूल रूप से बीएसएफ का एक पोस्ट है. 

लोंगेवाला सुनकर क्यों कांपता है पाकिस्तान

बता दें कि लोंगेवाला का देश के सैन्य इतिहास में अहम स्थान है. ये वही स्थान है जहां 1971 में भारत पाकिस्तान के भीषण युद्ध हुआ था. इस युद्ध में भारत की सेना ने पाकिस्तानियों पर जो कहर बरपाया था, उसे पाकिस्तान आज भी नहीं भूल पाता है. 

4 दिसंबर 1971 की इस लड़ाई को लोंगेवाला पोस्‍ट पर तैनात 120 भारतीय सैनिकों ने 40-45 टैंकों के कब्जा करने आए 3000 पाकिस्‍तानी जवानों को जो शिकस्त दी थी वो इतिहास बन गया था. 

लोंगेवाला चौकी पर कब्जा करने की नापाक कोशिश में पाकिस्तानियों को अपने 34 टैंक, पांच सौ वाहन और दो सौ जवानों से हाथ धोना पड़ा था, लेकिन ये चौकी अविजेय रही थी. 

2019 में राजौरी में थे पीएम मोदी

पिछले साल 27 अक्टूबर 2019 को पीएम नरेंद्र मोदी ने जम्मू-कश्मीर के राजौरी में जवानों के साथ दीवाली मनाई थी. आर्मी ड्रेस में पीएम मोदी जवानों के बीच पहुंचे और उनके बीच मिठाइयां बांटी थी. 

इससे पहले 2018 में पीएम मोदी ने उत्तराखंड के उत्तरकाशी में सेना और ITBP के जवानों के बीच दीवाली मनाई थी. 

नरेंद्र मोदी ने दीपावली के मौके पर देशवासियों से अपील की है कि वे एक दीया सीमा पर तैनात जवानों के नाम जलाएं. पीएम ने ट्वीट कर कहा, 'इस दिवाली, आइए एक दीया सैल्यूट टू सोल्जर्स (सैनिकों को सलाम) के तौर पर भी जलाएं. सैनिकों के अद्भुत साहस को लेकर हमारे दिल में जो आभार है उसे शब्दों में बयान नहीं किया जा सकता है. हम सीमा पर तैनात जवानों के परिवारों के भी आभारी हैं."

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें