scorecardresearch
 

PM केयर्स फंड से 201 करोड़ जारी, 162 अस्पतालों में लगेंगे ऑक्सीजन प्लांट

कोरोना महामारी के काल में लोगों के स्वैच्छिक मदद के लिए पीएम केयर्स फंड की स्थापना की गई थी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसके चेयरपर्सन हैं. इस फंड में आम आदमी के साथ साथ देश के कॉरपोरेट घरानों ने बढ़-चढ़कर मदद की.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फोटो-पीटीआई) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फोटो-पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ऑक्सीजन प्लांट लगाने के लिए पीएम केयर्स फंड से 201 करोड़ जारी
  • सरकारी अस्पतालों में लगेंगे ऑक्सीजन प्लांट

पीएम केयर्स फंड से देश के सरकारी अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट लगाने के लिए 201.58 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं. इस रकम से देश भर में 162 पीएसए मेडिकल ऑक्सीजन जेनेरेशन प्लांट्स लगाए जाएंगे. देश भर में आए दिन अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी से रोगियों की मौत की खबरें आती रहती हैं. पीएम केयर्स की ओर से किया गया ये अनुदान इस दिशा में प्रभावी बदलाव ला सकेगा. 

इन 162 प्लांट्स की क्षमता 154.19 मिट्रिक टन होगी. इन ऑक्सीजन प्लांट को 32 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों में लगाया जाएगा. 201 करोड़ रुपये में 137.33 करोड़ रुपये मशीनों की आपूर्ति, कमीशनिंग और सेंट्रल मेडिकल सप्लाई स्टोर का मैनेजमेंट शुल्क है. 64.25 करोड़ रुपये वार्षिक रखरखाव के लिए खर्च किया जाएगा. 

देखें: आजतक LIVE TV

इन मशीनों की खरीदारी सेंट्रल मेडिकल सप्लाई स्टोर करेगी. ये संस्था स्वास्थ्य मंत्रालय की एक स्वायत संस्था है. 

जिन सरकारी अस्पतालों में इन ऑक्सीजन प्लांट को लगाया जाएगा उनकी पहचान राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के सहयोग से कर ली गई है. इन प्लांट्स की वारंटी पहले तीन सालों की होगी. इसके बाद अगले सात सालों के लिए व्यापक वार्षिक रखरखाव भी शामिल है. इस तरह से 10 साल बाद अस्पताल या राज्य इन प्लांटों की देखभाल खुद करेंगे. 

बता दें कि ऑक्सीजन की पर्याप्त और लगातार सप्लाई मरीजों के इलाज के लिए जरूरी है. पीएम केयर्स की इस व्यवस्था से अस्पतालों में लंबे समय तक के लिए ऑक्सीजन की सप्लाई संभव हो सकेगी.

कोरोना महामारी के काल में लोगों के स्वैच्छिक मदद के लिए पीएम केयर्स फंड की स्थापना की गई थी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसके चेयरपर्सन हैं. इस फंड में आम आदमी के साथ साथ देश के कॉरपोरेट घरानों ने बढ़-चढ़कर मदद की. इस फंड से कोरोना कॉल में कई अस्पतालों में वेंटिलेटर मुहैया कराए गए. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें