scorecardresearch
 

दिल्लीः PFI के कार्यक्रम को नहीं मिली परमिशन, VHP ने लेटर लिख किया था प्रोग्राम का विरोध

पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया का आज दिल्ली में कार्यक्रम का आयोजन होना था. लेकिन पुलिस ने कार्यक्रम की परमिशन नहीं दी है. विश्व हिंदू परिषद ने दिल्ली पुलिस को लेटर लिखकर इस कार्यक्रम का विरोध किया था. विहिप नेता सुरेंद्र कुमार गुप्ता ने दावा किया था कि पीएफआई देशभर में संदिग्ध गतिविधियां चला रहा है. उन्हें दिल्ली में रैली करने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए.

X
सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • आज 12 बजे से अंबेडकर भवन में होना था आयोजन
  • विहिप ने अनुमति नहीं देने के लिए लिखा था लेटर

दिल्ली पुलिस ने पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) के दिल्ली में होने वाले कार्यक्रम को परमिशन नहीं दी है. PFI का कार्यक्रम आज दिल्ली के अंबेडकर भवन में होना था. इस कार्यक्रम का टाइटल सेव द रिपब्लिक पीपुल कॉन्फ्रेंस (Save the Republic People Confrence) रखा गया था.  लेकिन विश्व हिंदू परिषद ने इस कार्यक्रम का विरोध किया है. इसके लिए विहिप ने लेटर लिखा था. इसमें  विहिप ने दिल्ली में PFI के कार्यक्रम को अनुमति न देने की अपील की थी.

एजेंसी के मुताबिक 29 जुलाई को दिल्ली पुलिस को लिखे गए पत्र में विहिप नेता सुरेंद्र कुमार गुप्ता ने दावा किया था कि पीएफआई देशभर में संदिग्ध गतिविधियां चला रहा है और उन्हें दिल्ली में कोई रैली करने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए. 

दिल्ली पुलिस को लिखे अपने पत्र में सुरेंद्र गुप्ता ने कहा कि 30 जुलाई को पीएफआई अंबेडकर भवन में एक कार्यक्रम का आयोजन कर रहा है. यह संगठन पूरे देश में संदिग्ध गतिविधियां चला रहा है. देश में कई हिंसक घटनाओं के पीछे PFI की संलिप्तता कई राज्यों में चल जांच रही है. स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर इस तरह की गतिविधियां राजधानी में माहौल खराब कर सकती हैं.

दरअसल, 7 जुलाई को भाजपा की तेलंगाना इकाई ने पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया पर प्रतिबंध लगाने का आह्वान किया था. साथ ही गृह मंत्रालय से पीएफआई पर प्रतिबंध लगाने का अनुरोध किया था. हाल ही में बिहार के PFI कनेक्शन में लखनऊ से नूरुद्दीन उर्फ जंगी को गिरफ्तार किया गया था. पटना पुलिस के इनपुट पर यूपी एटीएस ने नूरुद्दीन उर्फ जंगी को लखनऊ से गिरफ्तार किया कर पटना पुलिस को सौंप दिया था. पटना पुलिस PFI कनेक्शन मामले में नूरुद्दीन की तलाश कर रही थी. वह पटना से भागकर लखनऊ में आकर छिपा था. 

ये भी देखें


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें