scorecardresearch
 

LAC विवाद: आर्मी के टॉप कमांडरों की अगले सप्ताह बैठक, सीमा पर चीन की स्थिति को लेकर होगी चर्चा

सूत्रों के मुताबिक चीनी सैनिक भारत के लद्दाख सेक्टर के सामने बड़ी संख्या में अभ्यास कर रहे हैं. वे अपने क्षेत्रों में अलग-अलग जगहों पर अभ्यास कर रहे हैं जहां से वे कुछ ही घंटों में भारतीय मोर्चे पर पहुंच सकते हैं. भारतीय सेना ने भी अपनी मुस्तैदी बढ़ा दी है. भारतीय सेना चीन की हरकतों पर करीब से नजर रख रही है.

भारत और चीन के बीच सीमा विवाद लंबे समय से जारी है. (फाइल फोटो) भारत और चीन के बीच सीमा विवाद लंबे समय से जारी है. (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सीमा पर चीन की स्थिति को लेकर होगी चर्चा
  • आर्मी चीफ जनरल मनोज मुकुंद नरवणे करेंगे नेतृत्व
  • लंबे समय से जारी है सीमा पर विवाद

भारतीय सेना के टॉप कमांडरों की बैठक अगले सप्ताह होगी. इस बैठक में सीमा पर चीन की स्थिति को लेकर चर्चा होगी. यह बैठक ऐसे समय पर होने जा रही है जब चीन की पीएलए लद्दाख के पास हरकत में हैं.

केंद्र सरकार के शीर्ष सूत्रों ने इंडिया टुडे को बताया कि सभी आठ आर्मी कमांडरों की बैठक आर्मी चीफ जनरल मनोज मुकुंद नरवणे के नेतृत्व में होगी. यह मीटिंग 16 जून से शुरू होगी. मीटिंग में पूर्वी लद्दाख के साथ-साथ एलएसी पर चर्चा की जाएगी. बैठक में एक साल से ज्यादा समय से चीन के साथ चले आ रहे विवाद के अलावा देश की सुरक्षा को लेकर भी चर्चा की जाएगी.

सूत्रों के मुताबिक चीनी सैनिक भारत के लद्दाख सेक्टर के सामने बड़ी संख्या में अभ्यास कर रहे हैं. वे अपने क्षेत्रों में अलग-अलग जगहों पर अभ्यास कर रहे हैं जहां से वे कुछ ही घंटों में भारतीय मोर्चे पर पहुंच सकते हैं. भारतीय सेना ने भी अपनी मुस्तैदी बढ़ा दी है. भारतीय सेना चीन की हरकतों पर करीब से नजर रख रही है.

इसपर भी क्लिक करें- भारत में चीनी फैला रहे हैं फेक ऐप्स स्कैम, भारतीय यूजर्स के अकाउंट्स हो रहे खाली
 
बता दें कि दोनों देशों के बीच बीते साल अप्रैल-मई से विवाद जारी है. शांति के लिए दोनों देशों के बीच इस विवाद का निपटारा जरूरी है.सूत्रों के मुताबिक हाल ही में जानकारी सामने आई है कि होटन और काशगर में फाइटर एयरक्राफ्ट की संख्या कम कर दी गई. हालांकि इन विमानों की तैनाती की संख्या घटती-बढ़ती रहती है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें