scorecardresearch
 

Muzaffarnagar Mahapanchayat: महापंचायत के मंच से बोले टिकैत- हमारी कब्रगाह बनेगी, तो भी हम दिल्ली बॉर्डर नहीं छोड़ेंगे

aajtak.in | मुजफ्फरनगर | 05 सितंबर 2021, 4:32 PM IST

मुजफ्फरनगर में किसानों की महापंचायत (Kisan Mahapanchayat) हुई. ये महापंचायत जीआईसी ग्राउंड पर हुई. दावा है कि इस महापंचायत में 300 से ज्यादा किसान संगठन शामिल हुए. संयुक्त किसान मोर्चा ने दावा किया है कि ये किसानों की अब तक की सबसे बड़ी महपंचायत है. महापंचायत में पहुंचे किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि जब तक मांगें नहीं मानी जाएंगी तब तक नहीं हटेंगे.

किसाना नेता राकेश टिकैत (फोटो- ANI) किसाना नेता राकेश टिकैत (फोटो- ANI)

हाइलाइट्स

  • मुजफ्फरनगर के जीआईसी ग्राउंड में महापंचायत
  • 15 राज्यों के हजारों से ज्यादा किसान जुटे
  • 300 से ज्यादा किसान संगठन महापंचायत में
  • किसान नेता राकेश टिकैत ने किया संबोधित

मुजफ्फरनगर में किसानों की महापंचायत (Kisan Mahapanchayat) हुई. ये महापंचायत जीआईसी ग्राउंड पर हुई. दावा है कि इस महापंचायत में 300 से ज्यादा किसान संगठन शामिल हुए. संयुक्त किसान मोर्चा ने दावा किया है कि ये किसानों की अब तक की सबसे बड़ी महपंचायत है. महापंचायत में पहुंचे किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि जब तक मांगें नहीं मानी जाएंगी तब तक नहीं हटेंगे. उन्होंने कहा कि दिल्ली बॉर्डर पर अगर हमारी कब्रगाह भी बन गई, तो भी हम वहां से नहीं हटेंगे. 

4:32 PM (एक महीने पहले)

संजीव बालियान बोले- राजनीति में आना चाहें तो स्वागत हैं

Posted by :- Priyank Dwivedi

मुजफ्फरनगर से बीजेपी सांसद और केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान का कहना है कि अगर किसान नेता राजनीति में आना चाहते हैं तो उनका स्वागत है. उन्होंने न्यूज एजेंसी से बात करते हुए कहा, अगर वो (संयुक्त किसान मोर्चा) राजनीति में आना चाहते हैं तो हम उनका स्वागत करेंगे. 

3:08 PM (एक महीने पहले)

टिकैत बोले- बगैर जीते वापस नहीं आएंगे

Posted by :- Priyank Dwivedi

राकेश टिकैत ने दिल्ली बॉर्डर पर डटे किसानों को लेकर भी बात कही. उन्होंने कहा कि भले ही वहां हमारी कब्रगाह बन जाए, लेकिन हम वहां से नहीं जाएंगे. उन्होंने कहा, 'हम आपसे वादा लेकर जाते हैं कि अगर वहां पर हमारी कब्रगाह बनेगी तो भी हम मोर्चा नहीं छोड़ेंगे. बगैर जीते वापस नहीं आएंगे.'

2:42 PM (एक महीने पहले)

टिकैत ने मंच से लगवाए अल्लाहु-अकबर और हर-हर महादेव के नारे

Posted by :- Priyank Dwivedi

किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि ये लोग बांटने का काम कर रहे हैं, हमें इन्हें रोकना है. पहले देश में अल्लाहु-अकबर और हर-हर महादेव के नारे साथ-साथ लगाए जाते थे और आगे भी लगेंगे. उन्होंने भीड़ से अल्लाहु-अकबर और हर-हर महादेव के नारे भी लगवाए. उन्होंने कहा, यूपी की जमीन को दंगा करवाने वालों को नहीं देंगे. टिकैत ने कहा कि ये लड़ाई तीन काले कानूनों से शुरू हुई. 28 जनवरी को  आंदोलन का कत्ल होता. हजारों की फोर्स थी, हम सैकड़ों थे, लेकिन डटे रहे. टिकैत ने कहा कि जब तक हमारी मांगें नहीं मानी जातीं, तब तक हम वहां से हटेंगे नहीं. हम किसी भी कीमत पर वहां से नहीं जाएंगे. हमें फसलों पर एमएसपी की गारंटी चाहिए और जब तक हमारी मांगे नहीं मानी जाएंगी, तब तक पूरे देश में संयुक्त मोर्चा आंदोलन करेगा. 

(इनपुटः कुमार कुणाल)

2:31 PM (एक महीने पहले)

देश में सेल फॉर इंडिया का बोर्ड लगाः टिकैत

Posted by :- Priyank Dwivedi

टिकैत ने कहा कि देश में सेल फॉर इंडिया का बोर्ड लगा है और इसे खरीदने वाले अंबानी-अडाणी हैं. उन्होंने कहा, FCI के गोदाम भी कंपनी को दे दिए. बंदरगाह भी बिक गए, मछली पालन और नमक के किसान पर असर होगा. ये पानी भी बेचेंगे. भारत बिकाऊ है, ये भारत सरकार की पॉलिसी है. अंबेडकर का संविधान भी खतरे में है.

(इनपुटः कुमार कुणाल)

2:29 PM (एक महीने पहले)

टिकैत बोले- सरकार ने बात बंद कर दी

Posted by :- Priyank Dwivedi

किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि 9 महीने से आंदोलन हो रहा है लेकिन सरकार ने बात बंद कर दी. सैंकड़ों किसानों के लिए एक मिनट का मौन नहीं किया. उन्होंने कहा, देश में बड़ी मीटिंग करनी होगी. सिर्फ मिशन UP नहीं देश बचाना होगा. बेरोजगारी और जिस तरह से चीज बेची जा रही है, उसकी अनुमति किसने दी.

2:24 PM (एक महीने पहले)

अगली बैठक लखनऊ में होगी

Posted by :- Priyank Dwivedi

किसान नेता दर्शन पाल सिंह ने कहा कि 8 अप्रैल 1857 को मेरठ में बगावत हुई थी और उसने अंग्रेजी शासन खत्म कर दिया था. अब उसी तरह का जोश मुजफ्फरनगर में दिख रहा है. जिस तरह से ईस्ट इंडिया कंपनी को हटाया, उसी तरह मोदी-शाह को हटाना है. उन्होंने बताया कि अगर मीटिंग 9 और 10 सितंबर को लखनऊ में गन्ने को लेकर होगी. 

(इनपुटः कुमार कुणाल)

2:19 PM (एक महीने पहले)

प्रियंका बोलीं- सत्ता का अहंकार नहीं चलता

Posted by :- Priyank Dwivedi

कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट कर कहा कि देश किसानों के साथ है. उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि किसानों की हुंकार के सामने सत्ता का अहंकार नहीं चलता. खेती-किसानी बचाने और अपनी मेहनत का हक मांगने की लड़ाई में देश आपके साथ है.

1:25 PM (एक महीने पहले)

मंच पर बड़े किसान नेता मौजूद

Posted by :- Priyank Dwivedi

मंच पर किसानों के कई बड़े नेता मौजूद हैं. ये वो नेता हैं जिन्होंने पिछले 10 महीने से चले आ रहे किसान आंदोलन का नेतृत्व किया है. इनमें राकेश टिकैत के अलावा योगेंद्र यादव समेत कई किसान संगठनों के नेता मौजूद हैं. जीआईसी मैदान इस वक्त किसानों की भीड़ से पटा हुआ है. सिर्फ जमीन ही नहीं बल्कि दीवारों पर भी लोग खड़े हुए हैं. 

1:12 PM (एक महीने पहले)

एडीजी बोले- अब तक सबकुछ सही चल रहा

Posted by :- Priyank Dwivedi

महापंचायत को लेकर एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) प्रशांत कुमार का कहना है कि अब तक सबकुछ सही तरीके से चल रहा है और जहां भीड़ है वहां सीसीटीवी से नजर रखी जा रही है. आयोजकों से भी बात कर ली गई है कि कोई भी असामाजिक या उपद्रवी तत्व उनके बीच ने आ  जाए, जिससे कोई गड़बड़ी हो. किसान आंदोलन शांतिपूर्ण ढंग से चल रहा है. विश्वास है कि ये रैली सकुशल संपन्न होगी और जब तक सारे किसान वापस नहीं चले जाते, तब तक सारी व्यवस्थाएं बनी रहेंगी.

(इनपुटः समर्थ श्रीवास्तव)

12:54 PM (एक महीने पहले)

मुजफ्फरनगर की सड़कों पर लगा जाम

Posted by :- Priyank Dwivedi

मुजफ्फरनगर की सड़कों पर सैकड़ों-हजारों की तादाद में किसान जुटे हैं. बताया जा रहा है कि जीआईसी मैदान पर ही लाखों किसान बैठे हैं और इतने ही किसान बाहर भी हैं. मुजफ्फरनगर की सड़कों पर पैर रखने की जगह नहीं है. तस्वीर में देख सकते हैं कि सड़क किसान प्रदर्शनकारियों से किस तरह भरी हुई है.

12:51 PM (एक महीने पहले)

वरुण गांधी बोले- हमें उनका

Posted by :- Priyank Dwivedi

बीजेपी सांसद वरुण गांधी ने ट्वीट कर किसानों के दर्द को समझने की बात कही है. उन्होंने लिखा, 'मुजफ्फरनगर में आज प्रदर्शन के लिए लाखों किसान जुटे हैं. वो हमारा अपना ही खून हैं. हमें उनके साथ फिर से सम्मानजनक तरीके से जुड़ने की जरूरत है. उनका दर्द समझें, उनका नजरिया देखें और जमीन तक पहुंचने के लिए उनके साथ काम करें.'

12:12 PM (एक महीने पहले)

मंच पर पहुंचे राकेश टिकैत

Posted by :- Priyank Dwivedi

राकेश टिकैत महापंचायत में पहुंच गए हैं. साढ़े 11 बजे के आसपास उनका काफिला मुजफ्फरनगर पहुंच गया था. अब टिकैत मंच पर पहुंच गए हैं और कुछ देर में किसानों को भी संबोधित करेंगे.

11:32 AM (एक महीने पहले)

मुजफ्फरनगर पहुंचे राकेश टिकैत

Posted by :- Priyank Dwivedi

राकेश टिकैत का काफिला मुजफ्फरनगर पहुंच गया है. उनके स्वागत के लिए सड़कों की दोर और सैकड़ों की तादाद में भीड़ इकट्ठी हुई है. राकेश टिकैत भी गाड़ी पर खड़े होकर उनका अभिवादन कर रहे हैं. टिकैत कुछ ही देर में जीआईसी मैदान पहुंच जाएंगे, जहां महापंचायत हो रही है.

(इनपुटः कुमार कुणाल)

11:07 AM (एक महीने पहले)

महापंचायत में सैकड़ों महिलाएं भी जुटीं

Posted by :- Priyank Dwivedi

महापंचायत में सैकड़ों की संख्या में महिलाएं भी आईं हैं. यहां आईं महिलाओं ने केंद्र सरकार से तीनों कानूनों की वापसी की मांग की है. वहीं संयुक्त किसान मोर्चा ने फोटो ट्वीट कर महापंचायत में उमड़ी भीड़ को 'ताकत' बताया है. संयुक्ति किसान मोर्चा का कहना है कि अब सरकार को किसानों की मांग मान लेनी चाहिए.

 

10:38 AM (एक महीने पहले)

राकेश टिकैत का हो रहा इंतजार

Posted by :- Priyank Dwivedi

किसानों की ये महापंचायत 11 बजे से शुरू हो जाएगी. किसान नेता राकेश टिकैत भी यहां पहुंचने वाले हैं. टिकैत के गृह जिले में ही ये महापंचायत हो रही है. टिकैत सुबह गाजीपुर से निकल गए थे और अभी रास्ते में हैं. बताया जा रहा है कि कुछ ही देर में वो जीआईसी मैदान पहुंच जाएंगे, जहां महापंचायत हो रही है.

10:36 AM (एक महीने पहले)

महापंचायत में आए लोगों के लिए लंगर की व्यवस्था

Posted by :- Priyank Dwivedi

महापंचायत में शामिल होने आए लोगों के खाने के लिए लंगर की व्यवस्था की गई है. जानकारी के मुताबिक, यहां 500 लंगर लगाई गई हैं. रविवार सुबह से ही लोगों यहां पहुंचने लगे हैं और कुछ ही देर में अब महापंचायत शुरू होने जा रही है.

(इनपुटः नसीर अजीज खान) 

9:54 AM (एक महीने पहले)

राकेश टिकैत भी हुए रवाना

Posted by :- Priyank Dwivedi

महापंचायत में शामिल होने के लिए किसान नेता राकेश टिकैत सुबह ही गाजीपुर से रवाना हो चुके हैं. वो अभी रास्ते में हैं. मुजफ्फरनगर के लिए निकलने से पहले टिकैत ने आज तक से खास बातचीत में कहा था कि वो 10 महीने बाद मुजफ्फरनगर जा रहे हैं, लेकिन वो यहां की मिट्टी में कदम नहीं रखेंगे. उनका कहना है कि जब तक कानून वापसी नहीं होगी, तब तक घर वापसी भी नहीं होगी.

9:49 AM (एक महीने पहले)

मुजफ्फरनगर में पहुंचने लगे किसान

Posted by :- Priyank Dwivedi

मुजफ्फरनगर में शनिवार से ही किसानों के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया था और सुबह से ही यहां जीआईसी मैदान पर किसान जुटने लगे हैं. मुजफ्फरनगर के जिस मैदान में महापंचायत होनी है, वहां लगभग सारी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं. मंच भी तैयार हो चुका है और पंडाल भी सज गया है. 

9:06 AM (एक महीने पहले)

मंच पर होंगे दो भाई, राकेश टिकैत और नरेश टिकैत

Posted by :- Priyank Dwivedi

मुजफ्फरनगर के जीआईसी मैदान पर सुबह से ही किसानों का जुटना शुरू हो गया है. हजारों की संख्या में किसान पहुंच चुके हैं. आज एक ऐतिहासिक चीज ये भी होने वाली है कि दो भाई एक मंच पर आने वाले हैं. राकेश टिकैत और नरेश टिकैत मंच पर होंगे. वॉलंटियर मौजूद हैं. मेडिकल कैम्प लगाए गए हैं, ताकि किसी की तबीयत बिगड़े तो उसे मदद मिल सके. लंगर लगाए गए हैं. पुलिस और पैरामिलिट्री फोर्स के जवान भी यहां तैनात हैं. पंचायत सुबह 11 बजे से शाम 5 बजे तक चलनी है. 

(इनपुटः समर्थ श्रीवास्तव)

8:31 AM (एक महीने पहले)

10 महीने बाद मुजफ्फरनगर जाएंगे राकेश टिकैत

Posted by :- Priyank Dwivedi

किसान नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) 10 महीने बाद मुजफ्फरनगर जाएंगे. टिकैत मुजफ्फरनगर के ही रहने वाले हैं और जब से किसान आंदोलन (Farmer Protest) शुरू हुआ है, तब से उन्होंने यहां कदम नहीं रखा है. टिकैत ने कहा, 'जब से आंदोलन शुरू हुआ है तब से मैं पहली बार मुजफ्फरनगर जा रहा हूं और वो भी गलियारे से जाऊंगा. वहां की जमीन पर कदम भी नहीं रखूंगा और अपने घर की तरफ देख लूंगा, वहां के लोगों को देख लूंगा.'

उन्होंने कहा, 'इसे आप जो भी समझे लेकिन जब तक कानून वापसी नहीं तब तक घर वापसी नहीं. जो लोग आजादी की लड़ाई के लिए लड़े, उन्हें काला पानी की सजा हुई तो वो कभी घर गए ही नहीं गए. ये भी एक तरीके का काला कानून है और जब तक कृषि कानून वापस नहीं होंगे तब तक घर नहीं जाएंगे.'

पढ़ें-- राकेश टिकैत ने खुद को क्यों दी 'काला पानी' की सजा? मुजफ्फरनगर की मिट्टी पर नहीं रखेंगे कदम

(इनपुटः कुमार कुणाल)